ओटावा, एपी। बोइंग विमान हादसे में अपनी पत्‍नी और तीन बच्‍चों को खोने वाले पॉल नरोगो चाहते हैं कि 737 मैक्स विमानों को पूरी तरह नष्‍ट कर दिया जाए। कंपनी के शीर्ष अधिकारियों पर कार्रवाई न होने से भी वह खफा हैं। वह विमानों को सेवा से हटाने की मांग को लेकर पिछले नौ महीने से मुखर हैं।

इथोपिया एयरलाइंस के बोइंग विमान हादसे में अपनी पत्नी और तीन बच्चे गंवाने वाले कनाडाई नागरिक पॉल नरोगो ने 737 मैक्स विमानों को नष्ट करने की मांग की है। पॉल का कहना है कि पिछले साल अक्टूबर में हुए हादसे के बाद भी 737 मैक्स विमानों को सेवा से हटाया नहीं गया है। ऐसा नहीं करने वाले बोइंग के शीर्ष अधिकारियों से इस्तीफा ले लिया जाना चाहिए। उन पर आपराधिक मुकदमा चलाया जाना चाहिए। पॉल बुधवार को बोइंग मामले की जांच कर रही अमेरिकी संसद की समिति के सामने अपनी बात रखेंगे।

इसी साल मार्च में इथोपिया के अदीस अबाबा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से उड़ान भरने के कुछ मिनट बाद ही बोइंग 737 मैक्स विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। इस हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई थी, जिसमें पॉल का परिवार भी शामिल था।

नौ महीने पर भी हुआ हादसा, 189 की हुई थी मौत

पिछले साल अक्टूबर में इंडोनेशिया में भी बोइंग का 737 मैक्स विमान इसी तरह दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। उस हादसे में 189 लोगों की मौत हुई थी। लगातार हादसों के बाद अमेरिकी कंपनी बोइंग की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचना हुई थी। इसके बाद उसे अपने 737 मैक्स विमान सेवा से हटाने पड़े थे।

परिवार खोने से दुखी हैं पॉल नरोगो

हादसे में अपनी पत्‍नी और तीन बच्‍चों को खोने से पॉल नरोगो बेहद दुखी हैं। हादसे के बाद से ही वह बोइंग और फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) के खिलाफ कड़ा रुख अपनाए हुए हैं। उनका कहना है कि यदि बोइंग और एफएए ने ठीक से अपनी जिम्मेदारी निभाई होती और अक्टूबर के हादसे के बाद ही 737 मैक्स विमानों की सेवा बंद करा दी होती तो आज उनका परिवार उनके साथ होता।

Posted By: Jagran News Network

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप