मॉस्को, एजेंसी। शादी के दुल्‍हन की विदाई एक ऐसा पल होती है, जब भाई और माता पिता अपनी भावनाएं नहीं रोक पाते हैं। माहौल ऐसा होता है कि भाई-बहन अपने आंसू नहीं रोक पाते हैं। लेकिन रूसी गणराज्य चेचन्या में दुल्हन की विदाई से जुड़ा एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने सभी को हैरान कर दिया। यहां एक भाई को अपनी बहन की विदाई के वक्त रोना महंगा पड़ गया। यही नहीं इसके लिए उससे सार्वजनिक तौर पर माफी भी मंगवाई गई।

रिपोर्टों के मुताबिक, पिछले हफ्ते बहन की विदाई पर भाई के रोने का वीडियो वायरल हुआ था। इस वाकए को लेकर भारी विवाद हो गया। धर्मिक नेता रमजान कदीरोव ने बताया कि शादी में रोकर लड़के ने चेचन्या की परंपराओं का उल्लंघन किया था। अब चेचन्या की इस परंपरा पर नजर डालते हैं। कदीरोव की मानें तो युवक को अपनी बहन की शादी में जाना ही नहीं चाहिए था। यही नहीं उक्‍त युवक शादी समारोह में भाग लिया और वहां रो दिया।

बहन की शादी पर रोने पर युवक को सार्वजनिक तौर पर माफी मांगने के लिए कहा गया। यही नहीं बाद में लड़के की माफी मांगने वाला वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। हालांकि, कुछ लोग इस फैसले से नाराज हैं। लोगों का कहना है कि बहन की विदाई के वक्‍त तो कोई भी भावुक हो जाता है। फ‍िर युवक को ऐसी सजा देना सही नहीं है। वहीं इतिहासकार जेलिमखान मुसाइव की मानें तो चेचन शादियों में महिला या पुरुष का रोना सही नहीं माना जाता है।

चेचन्या में मान्‍यता है कि वहां के पुरुष दुनिया में सबसे कड़े दिल के होते हैं। शायद यही वजह है कि युवक से माफी मंगवाई गई। हालांकि, आश्‍चर्यजनक बात यह है कि शादियों में दुल्हन के परिवार के सदस्‍यों की मौजूदगी या भावनाओं में बहकर रोना चेचन्या के कानून में कोई अपराध नहीं है। शादियों में इस तरह रोना केवल परंपरा के खिलाफ माना जाता है। यही कारण है कि लोग युवक से माफी मंगवाने का विरोध कर रहे हैं।  

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप