नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संदेश में कोरोनावायरस से बचाव के तरीकों पर फिर से जोर दिया। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में मौसम में बदलाव होने वाला है। उस दौरान इसके बढ़ने की संभावना अधिक रहेगी, ऐसे में लोगों को और भी सतर्क होने की जरूरत है। कोरोना से बचाव के लिए जो नियम तय किए गए हैं वो उसका पालन करेंगे तो उससे बचाव होगा अन्यथा वो कोरोना संक्रमण के शिकार होंगे।

उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि जिन देशों में कानून सख्त है वहां पर प्रधानमंत्री को भी मास्क न पहनने पर जुर्माना देना पड़ता है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से ऐसे लोगों पर जुर्माना लगाया जाता है। प्रधानमंत्री मोदी ने जिस पर जुर्माना लगाने की बात बताई वो बल्गेरियाई प्रधानमंत्री बोयोको बोरिसोव हैं। उन पर ये जुर्माना एक चर्च में यात्रा के दौरान मास्क पहनने के आदेश का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया था।

बल्गेरियाई देश में जुर्माने की रकम भारतीय करंसी में कुल 13 हजार रुपये बैठती है जबकि वहां की मुद्रा में ये 300 लीव है। स्वास्थ्य मंत्री किरिल अननियाव ने बुल्गारियाई लोगों को आदेश दिया कि एक सप्ताह से कोरोना के मामलों में फिर से बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है, इस वजह से सभी लोगों को इनडोर सार्वजनिक स्थानों पर फिर से मास्क पहनना अनिवार्य है। उधर स्वास्थ्य मंत्रालय ने ये भी जानकारी दी कि चर्च में यात्रा के दौरान जो लोग प्रधानमंत्री के साथ थे और उन्होंने रीला मठ चर्च में सुरक्षात्मक फेस मास्क नहीं पहन रखा था उन सभी पर जुर्माना लगाया जाएगा। 

दूसरी ओर रोमानियाई प्रधानमंत्री लुडोविक ओरबान पर भी फेस मास्क न पहनने पर 1110 डॉलर का जुर्माना लगाया गया। रोमानियाई राज्य समाचार एजेंसी एगरप्रेस की एक रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री ने उनके कई कैबिनेट सदस्यों के साथ धूम्रपान किया था। इस दौरान किसी ने मास्क नहीं पहना था और सभी ने शराब भी पी थी, इसकी एक फोटो भी वायरल हुई थी जिसमें प्रधानमंत्री लुडोविक सामने बैठे थे और उनकी कैबिनेट के अन्य सदस्य सामने बैठे थे, टेबल पर शराब रखी थी और कई लोगों के हाथों में सिगरेट भी थे।

साल 2016 से ही इस देश में धूम्रपान पर प्रतिबंध लगा दिया गया है, उसके बाद कोविड-19 के दौरान ये चीजें सामने आई थीं। जब ये तस्वीर वायरल हुई उसके बाद प्रधानमंत्री की ओर से बयान भी जारी किया गया जिसमें ओर्बन ने स्वीकार किया कि उन्होंने नियम तोड़े हैं। उन्होंने कहा कि 25 मई को उनके जन्मदिन के बाद कुछ लोगों का जमावड़ा उनके कार्यालय में हुआ था।

कुछ देशों ने अपने यहां कोरोना से बचाव के लिए अपनाए जा रहे तीन नियम, मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग और 20 सेकंड तक हाथ धोने को सख्त कर दिया है। मास्क पहनने पर तो जुर्माना लगाया जा रहा है बाकी दो चीजों का पालन करने की अपील की जा रही है। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए इन दिनों सभी दुकानों, मॉल्स, मेडिकल और जनरल स्टोर के अलावा बस अड्डों पर भी इनका पालन किया जा रहा है।

जिन देशों में स्वास्थ्य मंत्रालय सख्त है और स्वास्थ्य नियमों का सख्ती से पालन किया जाता है वहां पर जुर्माने की रकम बढ़ाकर दोगुनी कर दी गई है जिससे लोग इसका हर हाल में पालन करें और कोरोना मरीजों की संख्या न बढ़ने पाएं। इजरायल की सरकार ने पिछले हफ्ते सार्वजनिक रूप से मास्क नहीं पहनने के लिए जुर्माना दोगुना से अधिक कर दिया। एक सरकारी अधिकारी ने इसे बढ़ाकर 2,000 शेकेल (583 डॉलर) करने का भी प्रस्ताव रखा है।  

Posted By: Vinay Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस