नई दिल्‍ली, जेएनएन। Capital punishment in Saudi Arabia: सऊदी अरब में 12 लोगों का सिर काटकर मौत की सजा दी गई। इन लोगों को नशीली गोलियों के साथ गिरफ्तार किया गया था। ऐसे में सवाल उठता है कि सऊदी में मौत की सजा किस तरीके से दी जाती है। किन अपराधों पर मौत की सजा का प्रावधान है। इसके साथ यह जानेंगे कि दुनिया में किन मुल्‍कों में मौत की सजा का प्रावधान है। कितने मुल्‍क अपने देश में मौत की सजा को खत्‍म कर चुके हैं।

इन मामलों में मौत का दंड

सऊदी अरब में इस मामलों में गैर इरादतन हत्‍या, हत्‍या की योजना, आंतकवादी गतिविधियां, दुष्‍कर्म, समलैंगिक संबंध, सेंधमारी, चोरी, डकैती, जासूसी, धर्म के खिलाफ व्‍यवहार, नशीली दवाओं का सेवन और ब्रिकी के मामले में कानून काफी सख्‍त है। इन अपराधों पर मौत दंड का प्रावधान है। यह देश का कानून यानी शरिया ला का तय करता है। बता दें कि सऊदी अरब दुनिया के उन मुल्‍कों में है, जहां सबसे ज्‍यादा कठोर काननू है।

सऊदी में तीन तरह से दी जाती है मौत की सजा

1- रायटर्स के मुताबिक सऊदी अरब में कई तरह से मौत की सजा दिए जाने का प्रावधान है। सऊदी में धारदार हथ‍ियार से सिर को धड़ से अलग करके मौत की सजा दी जाती है। इसके अलावा फांसी के फंदे पर लटकाकर और गोली मारकर भी मौत की सजा को अंजाम तक पहुंचाया जा सकता है। सऊदी में कुछ खास मामलों में गोली मारकर मौत की सजा दी जाती है।

2- गोली मारने के पूर्व उक्‍त अपराधी को डाक्‍टर के समक्ष पेश किया जाता है। डाक्‍टर उसके स्‍वास्‍थ्‍य की जांच करते हैं। इस प्रक्रिया के बाद उसे अदालत के परिसर या उस स्‍थान पर ले जाते हैं, जहां उक्‍त अपराधी को फांसी की सजा दी जानी है। फांसी के पूर्व अपराधी घुटने के बल पर उस स्‍थान पर बैठ जाता है। इसके बाद अधिकारी उस अपराधी को उसके अपराध की जानकारी साझा करते हैं। अंत में एक धारदार हथियार से अपराधी के सिर को धड़ से अलग कर दिया जाता है। सऊदी में मौत की सजा देने वाले शख्‍स को सुल्‍तान कहते हैं।

सऊदी में कोड़े की सजा पर लगी रोक

वर्ष 2020 में सऊदी अरब में गैर व्‍यस्‍कों यानी बच्‍चों को उनके अपराध के लिए मौत की सजा नहीं दी जाएगी। इसके दो दिन पूर्व सऊदी में कोड़े की सजा पर भी रोक लगाई गई थी। सऊदी ने बाल अधिकारों को लेकर संयुक्‍त राष्‍ट्र के कन्‍वेंशन पर दस्‍तखत किए हैं। इस कन्‍वेंशन के मुताबिक गैर वयस्‍कों को उनके अपराध के लिए मौत की सजा नहीं दी जाएगी। मानवाधिकारों के मामले में सऊदी की स्थिति काफी चिंताजनक है। सऊदी में अभिव्‍यक्ति की आजादी को बुरी तरह से दबाया जाता है। सरकार की निंदा करने पर सख्‍त सजा दी जाती है।

दुनिया के कुछ मुल्‍कों में ऐसे दी जाती है सजा-ए-मौत

1- दुनिया में 58 देशों में सजा-ए-मौत के लिए फांसी दिए जाने का प्रावधान है। 73 मुल्‍कों में मौत की सजा के लिए गोली मारे जाने का प्रावधान है। भारत सहित 33 देशों में मृत्‍युदंड का एकमात्र तरीका फांसी है। इसके अलावा छह मुल्‍कों में स्‍टोनिंग यानी पत्‍थर मारकर यह दंड दिया जाता है। दुनिया के पांच मुल्‍कों में इंजेक्‍शन देकर मौत की सजा दी जाती है। तीन देशों में सिर काट कर इस सजा को अंजाम दिया जाता है।

2- दुनिया में 58 मुल्‍क मृत्‍युदंड देने के मामले में काफी सक्रिय माने जाते हैं, जबकि 97 देश इस प्रावधान को समाप्‍त कर चुके हैं। अन्‍य देशों में पिछले करीब एक दशक से क‍िसी को मृत्‍युदंड नहीं दिया गया है। इन मुल्‍कों में जंग के दौरान मृत्‍युदंड का इस्‍तेमाल किया गया है। अमेरिका में मौत की सजा के लिए जहरीला इंजेक्‍शन देने के एक से ज्‍यादा तरीके हैं।

3- अफगानिस्‍तान और सुडान में मौत की सजा दो तरीके से दी जाती है। मौत की सजा पाए अपराधी को गोली मारकर या फांसी दी जाती है। सीरिया, युगांडा, कुवैत, ईरान मिस्र में एक तरह से मौत की सजा देने का प्रावधान है। इसमें गोलीमार कर अपराधी की हत्‍या की जाती है या फ‍िर फांसी दी जाती है। भारत, मलेशिया, तंजानिया, जिंबाब्‍वे, दक्षिण कोरिया, जाम्बिया और बारबाडोस में फांसी के जरिए मौत की सजा का प्रावधान है।

4- थाइलैंड, बहरीन, चिली, इंडोनेशिया, घाना, अर्मीनिया, यमन और टोगो में मौत की सजा पाए अपराधी को गोली मारी जाती है। चीन में इंजेक्‍शन और फायरिंग के जरिए सजा दी जाती है। फ‍िलीपींस में भी इंजेक्‍शन के जरिए ही मौत की सजा दिए जाने का प्रावधान है। अमेरिका में इलेक्‍ट्रोक्‍यूशन, गैस, फांसी और फायरिंग के जरिए मौत की सजा दी जाती है।

2020 में मौत की सजा देने वाले टाप 10 देश

1- क्‍या आप जानते हैं कि वर्ष 2020 में दुनिया के किस मुल्‍क ने अपने देश में सर्वाधिक मौत की सजा सुनाई। वर्ष 2020 में ईरान में 246 लोगों को मौत की सुजा सुनाई थी। मौत की सजा के मामले में ईरान दुनिया में पहले नंबर पर था। दूसरे, स्‍थान पर मिस्र था। मिस्र में 107 लोगों को मौत की सजा सुनाई गई थी। इस मामले में इराक तीसरे स्‍थान पर है। वहां 45 लोगों को मौत की सजा मिली।

2- सऊदी अरब में 27 और अमेरिका में 17 लोगों को मौत की सजा सुनाई गई थी। इसके साथ छठें स्‍थान पर सोमालिया था। सोमालिया में 11 लोगों को मौत की सजा दी गई थी। यमन में पांच लोगों को मौत की सजा मिली थी। भारत और ओमान में चार-चार लोगों को मौत की सजा दी गई थी।

3- दस देशों की सूची में सर्वाधिक देश पश्चिमी एशिया से ताल्‍लुक रखते हैं। मौत की सजा सुनाने के मामले में दस शीर्ष देशों की सूची में छह मुल्‍क पश्चिमी एशिया से ही आते हैं। चीन में कम्‍युनिस्‍ट पार्टी की सरकार है। चीन में एक पार्टी का शासन होने के कारण निरंकुश शासन है। चीन में सरकार के विरोध में बोलने की इजाजत नहीं है।

Edited By: Ramesh Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट