सिंगापुर, प्रेट्र। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा है कि पाकिस्तान के साथ भारत आतंकवाद के मुद्दे पर बातचीत के लिए तैयार है। लेकिन मेरे सिर पर बंदूक रखने की जगह उसे अपनी आदतों में बदलाव लाना होगा।

जयशंकर शुक्रवार से 10 सितंबर तक सिंगापुर के दौरे पर पहुंचे हैं। मिंट एशिया लीडरशिप समिट को संबोधित करते हुए उन्होंने यह टिप्पणी की। इस समिट में करीब 400 प्रतिनिध भाग ले रहे हैं।

विदेश मंत्री ने यह टिप्पणी ऐसे समय में की है जब भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चरम है। पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 समाप्त कर देने के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव और बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि यदि किसी मुद्दे पर बातचीत करने की जरूरत है तो वह है भारत और पाकिस्तान के बीच।

पाकिस्तान से जारी सीमा पार आतंकवाद की ओर इशारा करते हुए जयशंकर ने कहा, 'लेकिन यह मेरे सिर पर बंदूक रखकर नहीं हो सकती।' पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की स्वीकारोक्ति को उन्होंने सामने रखा। खान ने देश में 40 विभिन्न आतंकी समूहों की मौजूदगी की बात कही थी। विदेश मंत्री ने कहा, 'हम इसपर बातचीत के लिए तैयार हैं, लेकिन आप दो सभ्य पड़ोसियों के बीच का वातावरण मुहैया करा दें।'

अमेरिका के साथ व्यापार के मुद्दे पर जयशंकर ने कहा कि उन्हें कोई समस्या नहीं है। भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्ते का व्यापार एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। फिर भी हाल के महीने में बाजार पहुंच और शुल्क पर विवाद खड़ा हुआ है। इससे संरक्षित विवाद का डर पैदा हो गया है।

 

इसे भी पढ़ें: युद्ध उन्माद भड़काने की साजिश रच रहा पाकिस्तान, सेना को गुलाम कश्मीर में किया तैनात

इसे भी पढ़ें:  Article 370: घटती नहीं बेचैनी.. जाता नहीं दर्द.. इमरान ने कश्‍मीर को बताया पाकिस्‍तान के ‘गले की नस’

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप