नई दिल्‍ली (स्‍पेशल डेस्क)। उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग उन ने एक बड़ा फेरबदल करते हुए अपनी बहन किम यो जोंग को पार्टी में बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है। न्‍यूज एजेंसी केसीएनए के मुताबिक किम जोंग उन ने शनिवार को पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ एक बैठक की थी जिसके बाद उन्‍होंने अपनी छोटी बहन किम यो जोंग को पार्टी के पोलित ब्यूरो का वैकल्पिक सदस्य बनाया। यहां पर यह बता देना जरूरी होगा कि इसी पोलित ब्यूरो के ज़रिए किम जोंग उन अपने बड़े फैसले लेते हैं। यहां पर यह भी खास है कि किम ने अपने दो भाईयों को दरकिनार करते हुए अपनी छोटी बहन को इतनी तवज्‍जो दी है।

कई मौकों पर भाई के साथ दिखाई दी हैं ‘किम’

किम यो जोंग पहले भी कई मौकों पर अपने भाई के साथ दिखाई दी हैं। यहां तक की वह उनके साथ कई बार फील्‍ड दौरों पर भी गई हैं। वह पार्टी के प्रचार प्रसार से भी प्रमुखता से जुड़ी रही हैं। गौरतलब है कि किम के पिता की पांच बीवियां थी, जिनसे सात संतानें भी थीं। किम यो जोंग और किम जोंग उन दोनों ही एक माता-पिता की संतान हैं। इसके अलावा इनका एक और भाई है जिसका नाम किम जोंग चोल है। यो-जोंग का जन्म 26 सितंबर 1987 को हुआ था। उन्हें किम जोंग उन का करीबी माना जाता है। उन्‍होंने 1996 से लेकर 2000 तक बर्न, स्विट्जरलैंड में पढ़ाई की। यहां पर भी उनके चारों तरफ सिक्‍योरिटी का घेरा हुआ करता था।

यह भी पढ़ें: प्यार में धोखा खाई महिला की मदद से सुरक्षाबलों ने आतंकी खालिद को किया ढेर

बढ़ जाएगी यो जोंग की ताकत

पार्टी में पोलित ब्यूरो की सदस्य बनने के बाद यो जोंग की जिम्मेदारियां और कद दोनों बढ़ जाएगा। हाल ही में दी गई अहम जिम्‍मेदारी से पहले यो जोंग वर्ष 2014 से पार्टी के प्रचार विभाग में प्रमुख भूमिका निभाती रही हैं। इसके अलावा वह किम जोंग उन के राजनीतिक सलाहकार के तौर पर भी काम करती हैं। वह किम की सिक्‍योरिटी के साथ-साथ उनकी यात्राओं और इस दौरान होने वाले सभी कार्यक्रमों और इस दौरान उपयोग में लाई जाने वाली सभी चीजों पर पैनी निगाह रखती हैं। वर्ष 2012 में जब किम के पिता की मौत हुई थी तब वह वह पहली बार जनता के सामने आई थीं। इसके बाद वे साल 2014 में अपने भाई के सत्ता संभालने के मौके पर भी दिखाई दीं।

यह भी पढ़ें:

किसी को नहीं पता था यह रात उनके लिए आखिरी रात साबित होगी, लेकिन ... 

आतंकी सईद को बोझ बताने वाले ख्वा‍जा आसिफ ने माना संत नहीं है ‘पाकिस्तान’ 

अमेरिका-उत्तर कोरिया के युद्ध में सियोल-टोक्यो में ही मारे जाएंगे 20 लाख लोग 

पूरी तैयारी के बाद भी उत्तर कोरिया पर हमला करने से पीछे हट गए थे US प्रेजीडेंट 

जंग छिड़ी तो महज 24 घंटों में सियोल को तबाह कर देगा उत्तर कोरिया 

Posted By: Kamal Verma