यरूशलेम, आइएएनएस। एक इजरायली विमान 13 साल में पहली बार तुर्की में उतरा, देश के एयरलाइन एल अल ने कहा। समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, एल अल तुर्की की उड़ान भरने वाली एकमात्र इज़राइली एयरलाइन है, जिसने 2007 में इस्तांबुल का का रूट कैंसिल कर दिया था। ऐसा उच्च सुरक्षा लागत और दोनों देशों के बीच तनावपूर्ण संबंधों से उत्पन्न कड़े प्रतिबंधों के कारण हुआ था। हालांकि, अब 13 साल के बाद एक इजरायली विमान तुर्की में लैंड हुआ है।

बताया गया कि तब से, आपातकालीन लैंडिंग और निजी उड़ानों को छोड़कर, कोई भी इज़राइली विमान तुर्की में नहीं उतरा है। रविवार को, एल अल ड्रीमलाइनर विमान, माल ले जाने के लिए परिवर्तित होने को इस्तांबुल में उतरा। यह 24 टन मानवीय कोरोना वायरस उपकरणों से भरा हुआ था।

अब तक, एल अल को मानवीय उद्देश्यों के लिए दो उड़ानें संचालित करने के लिए तुर्की अधिकारियों से मंजूरी मिल गई है और नियमित रूप से कार्गो उड़ानों को संचालित करने के लिए मंजूरी का इंतजार है।

Posted By: Nitin Arora

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस