कीव, यूक्रेन, एएनआइ। रूसी-यूक्रेनी सीमा पर चल रहे सैन्य निर्माण के बीच कीव में भारतीय दूतावास ने यूक्रेन में रहने वाले अपने नागरिकों से सूचना का तेजी से प्रसार करने के लिए खुद को पंजीकृत करने के लिए कहा है। भारतीय दूतावास ने कहा कि वह स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहा है और भारतीय नागरिकों से अपडेट के लिए लगातार अपनी वेबसाइट का पालन करने के लिए कहा गया है।

भारतीय दूतावास के सोशल मीडिया का प्रयोग करें नागरिक

भारतीय नागरिकों के साथ प्रभावी ढंग से समन्वय करने और त्वरित तरीके से सूचना का प्रसार करने के इरादे से कीव में भारतीय दूतावास ने सभी भारतीय नागरिकों से एक अनुरोध किया है। इसके साथ ही यूक्रेन के क्षेत्र में स्थित छात्रों से भी नीचे दिए गए फार्म को भरने के लिए कहा गया है। भारतीय दूतावास ने एक विज्ञप्ति में कहा कि जो छात्र वर्तमान में भारत से आनलाइन शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं, उन्हें फार्म भरने के निर्देश नहीं दिए गए हैं। दूतावास ने विज्ञप्ति में कि वह स्थिति पर बारीकी से लगातार अपनी नजर बनाए हुए है। उन्होंने कहा कि नागरिकों को सलाह दी जाती है कि आगे के अपडेट के लिए दूतावास की वेबसाइट, फेसबुक और ट्विटर पेजों का पालन करना जारी रखें, जिन्हें जब जरूरत हो वह इन माध्यमों का इस्तामाल कर सकता है।

य़ूक्रेन पर बढ़ता हुआ तनाव

आपको बता दें कि हाल के महीनों में यूक्रेन पर तनाव काफी बढ़ गया है। रूस और नाटो ने एक-दूसरे पर रूसी-यूक्रेनी सीमा पर सैनिकों को इकट्ठा करने का आरोप लगाया है। अमेरिका और यूक्रेन ने रूस पर आक्रमण की तैयारी करने का आरोप लगाया है। इस बीच मास्को ने इन दावों का खंडन किया और कहा कि उसका किसी देश पर हमला करने का कोई भी इरादा नहीं है।

तनाव को कम करने के प्रयास का स्वागत करेगा अमेरिका

इसी बीच व्हाइट हाउस के प्रवक्ता ने मंगलवार को कहा कि रूस और यूक्रेन के बीच बढ़ते तनाव को कम करने में भूमिका निभाने के भारत सहित किसी भी देश के प्रयास का अमेरिका स्वागत करेगा। व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जेन साकी ने पत्रकारिता विवरण में कहा कि हम निश्चित रूप से तनाव कम करने के किसी भी प्रयास का स्वागत करते हैं और हम इस पर कई सहयोगियों और भागीदारों से संपर्क भी कर रहे हैं, लेकिन मेरे पास भारतीय अधिकारियों से संबंधित कोई विशेष बातचीत नहीं है।

Edited By: Geetika Sharma