काठमांडू, एएनआइ। भारतीय मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक गुरूवार शाम लगभग 6 बजकर 34 मिनट पर नेपाल में भूकंप के झटके महसूस किए गए। राजधानी काठमांडू में इस भूकंप से झटके महसूस हुए है। जानकारी के अनुसार, तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.3 दर्ज की गई।

भूकंप की वजह से लोग अपने घरों से बाहर निकल गए। हालांकि, काठमांडू में आए भूकंप में किसी बड़ी क्षति की कोई सूचना नहीं है, साथ ही किसी के हताहत होने की भी अभी कोई खबर सामने नहीं आई है।

2015 में भूकंप ने नेपाल में मचाई थी तबाही

बता दें कि अप्रैल 2015 में नेपाल में आए 7.8 तीव्रता के भूकंप ने खूब तांडव मचाया था। भारत के कुछ इलाकों में भी इसका प्रभाव देखा गया था। इस विनाशकारी भूकंप की बजह से नेपाल में करीब 9000 लोगों की मौत हुई थी जबकि करीब 22 हजार लोग घायल हुए थे।

जानें, क्यों आता है भूकंप

धरती की ऊपरी सतह सात टेक्टोनिक प्लेटों से मिल कर बनी है। जहां भी ये प्लेटें एक-दूसरे से टकराती हैं, वहां पर भूकंप का खतरा पैदा हो जाता है।

भूकंप के दौरान ऐसा करने से बचें

- भूकंप के दौरान लिफ्ट का इस्तेमाल न करें

- बाहर जाने के लिए लिफ्ट की बजाय सीढ़ियों का इस्तेमाल करें

- कहीं फंस गए हों तो दौड़ें नहीं

- अगर गाड़ी या कोई भी वाहन चला रहे हो तो उसे फौरन रोक दें

- वाहन चला रहे हैं तो पुल से दूर सड़क के किनारे गाड़ी रोक लें

- भूकंप आने पर तुरंत सुरक्षित और खुले मैदान में जाएं

- भूकंप आने पर खिड़की, अलमारी, पंखे आदि ऊपर रखे भारी सामान से दूर हट जाएं

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप