बर्लिन रायटर। आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के संदिग्ध सदस्य के बच्चों को पहली बार उत्तरी सीरिया से जर्मनी ने अपने देश लौटने की अनुमति दे दी है। विदेश मंत्री हेइको मास ने कहा कि ऐसे और भी बच्चों को देश में लौटने के लिए कार्य किया जाएगा। इससे पहले दूसरे देश भी इस प्रकार का निर्णय ले चुके हैं और अपने देश में ऐसे बच्चों को आने की अनुमति दे चुके हैं। वर्तमान मे जर्मनी भी दूसरे देशों की तरह ही इस समस्या से जूझ रहा है कि ऐसे नागरिकों के साथ कैसे बर्ताव किया जाए।

सीरिया से जर्मनी लौटे बच्चों में अनाथ बच्चें भी हैं शामिल
जर्मनी में लौटे इस्लामिक संगठन संदिग्ध सदस्य के बच्चों में तीन बच्चें अनाथ हैं। इसके अलावा अभी इन बच्चों के बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। विदेश मंत्री हेइको मास के मुताबिक जो बच्चें जर्मनी वापस लौटे हैं उनमें से काफी बच्चें जवान हैं, लेकिन वह इन सब चीजों के लिए बिल्कुल भी जिम्मेदार नहीं हैं। उन्होंने ऐसे बच्चों की हरसंभव मदद का आश्वासन दिया है। 

इस्लामिक संगठन को लेकर चितिंत माहौल

इस्लामिक संगठन में आए दिन नए लोग शामिल होते रहते हैं या जबरन इस संगठन के लोग मासूम लोगों को अपने संगठन की सदस्यता दिलाते हैं। देश-विदेश में इस संगठन को लेकर सभी आधिकारी चिंतित हैं, और कोशिश कर रहे हैं कि कैसे अपने देश के लोगों को इस ग्रुप में शामिल होने से रोका जा सका. फ्रांस भी इस तरह की समस्या से जुझ रहा है। 

अब जर्मन तकनीक की बोगियों संग दौड़ेगी चंडीगढ़ एक्सप्रेस Lucknow News

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप