नई दिल्ली, एएनआइ। चीन से भारत लाए गए सात नागरिकों को घर जाने की इजाजत दे दी गई है, जिनमें एक बच्चा भी शामिल है। उनको वुहान इंडो-तिब्बतन बोर्डर पुलिस (Indo Tibetan Border Police- ITBP) के सेंटर लाया गया था। इन्हें दिल्ली के छावला में क्वेरंटाइन में रखा गया था। अब संक्रमण की जांच के बाद उन्हें उनके देश वापस भेजा जा रहा है।

बता दें कि इसी महीने की शुरूआत में मालदीव के नागरिकों को भारतीय विमान द्वारा भारत लाया गया था। इसके लिए मालदीव के राष्ट्रपति और विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और भारत सरकार का आभार भी व्यक्त किया था। उन्होंने कहा कि यह दोनों देशों के बीच उत्कृष्टता मित्रता का अच्छा उदाहरण है।

गौरतलब है कि भारतीय सेना और आइटीबीपी ने वायरस प्रभावित चीन से निकाले गए लोगों के लिए विशेष सुविधा केंद्र बनाया है जहां संक्रमित लोगों की जांच की जाती है। पहला केंद्र मानेसर में बनाया गया है जबकि दूसरा केंद्र दक्षिण-पश्चिम दिल्ली के छावला इलाके में बनाया गया है। इन केंद्रों में डॉक्टरों की टीम यहां लाए गए लोगों को दो हफ्ते रखकर संक्रमण के किसी भी तरह के लक्षण की निगरानी करती है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस