सिडनी, रायटर। आस्ट्रेलिया में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। कोविड-19 के मामले दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं। दैनिक मामलों में लगातार हो रही वृद्धि से अस्पतालों और जांच केंद्रों पर दबाव बढ़ता जा रहा है। देश के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य न्यू साउथ वेल्स ने शनिवार को अपनी दैनिक COVID-19 मौतों की उच्चतम संख्या दर्ज की है। वहीं दूसरी तरफ देश में अभी ओमिक्रोन वैरिएंट तेजी से फैल रहा है। आपको बता दें कि मामले इतने बढ़ गए हैं की वायरस की परीक्षण सुविधाएं भी चरमरा गई हैं।

सिडनी का है बुरा हाल

आस्ट्रेलिया के लगभग 50 लाख से अधिक आबादी वाले सिडनी शहर के भी हालात आए दिन बिगड़ते जा रहे हैं। शनिवार को कोरोना वायरस से शहर में 16 मौतों की सूचना दी गई। वहीं राज्य न्यू साउथ वेल्स और विक्टोरिया में कोविड-19 के मामलों में भारी उछाल आया है, जिसमें न्यू साउथ वेल्स ने रिकार्ड स्तर के करीब 30,062 नए संक्रमणों की सूचना दी है। दूसरा सबसे बड़ा राज्य, विक्टोरिया, जो इस महीने आस्ट्रेलियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा है, वहां पर 44,155 नए कोविड -19 मामले और चार मौतें दर्ज की गई हैं।

देश में अभी कुल मिलाकर 1 लाख मामले दर्ज किए गए, जो पिछले दिन के रिकार्ड 116,025 से कम था।‌

लेकिन फिर भी यह अधिकांश आंकड़े पिछले सभी रिकार्ड को पार कर गए हैं। देश में बीते एक दिन में कुल मौतें 36 सामने आई हैं।

सरकार द्वारा वित्त पोषित पाप-अप परीक्षण के चलते क्लीनिकों में भीड़ ना एकत्रित हो, उसके लिए अधिकारियों ने अपने संदेश को स्थानांतरित कर दिया है और लोगों से घर पर तेजी से एंटीजन परीक्षण करने का आग्रह किया है, फिर जो जो पाजिटिव पाए जाते हैं वे अपने डाक्टरों को रिपोर्ट करें।

संघीय स्वास्थ्य मंत्री ग्रेग हंट ने संवाददाताओं से कहा

संघीय स्वास्थ्य मंत्री ग्रेग हंट ने संवाददाताओं से कहा, 'हमने महत्वपूर्ण बीमारी की बहुत कम दर देखी है। यह कार्यबल है जो इस समय प्रमुख चुनौती बनी हुई है।' हंट ने कहा कि सरकार और उसके स्वास्थ्य सलाहकारों ने करीबी संपर्कों के लिए अनिवार्य आइसोलेशन समय में कटौती की है और करीबी संपर्कों की परिभाषा को सीमित कर दिया है, लेकिन अभी भी कोविड नियमों की समीक्षा की जा रही है।

बच्चों को टीकाकरण देने की योजना

देश में लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच बीच आस्ट्रेलिया ने सोमवार से 5 से 11 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू करने की योजना बनाई है। अधिकांश राज्यों ने कहा कि वे जनवरी के अंत में स्कूल फिर से खोलेंगे। 

Edited By: Ashisha Rajput