कैनबरा, आइएएनएस: आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री स्काट मारिसन की बुधवार को संसद ने आधिकारिक रूप से निंदा की। आरोप लगाया गया है कि ज्यादातर अन्य सांसदों या जनता को बताए बिना तत्कालीन पीएम ने पांच मंत्री पद अपने पास रखे। अधिकांश मंत्री कथित तौर पर अनजान थे कि वे मारिसन के साथ विभागों को साझा कर रहे थे। आस्ट्रेलिया में यह पहली बार है कि किसी पूर्व प्रधानमंत्री की प्रतिनिधि सभा द्वारा निंदा की गई।

यह भी पढ़े: क्रिप्टो बैंक ब्लॉकफी ने बैंकरप्सी के लिए आवेदन किया, FTX को बताया वजह, बिटफ्रंट एक्सचेंज भी बंद

मारिसन ने माफी मांगने से किया इनकार

एसबीएस न्यूज ने बताया कि निंदा मत से पहले मारिसन ने माफी मांगने से इनकार कर दिया। उन्होंने इस कदम को विरोधियों का प्रतिशोध बताया। आस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बानीस ने आरोप लगाया कि मारिसन ने आस्ट्रेलियाई लोगों को अंधेरे में रखकर और संसद को गुमराह करके इस बात को छुपाकर रखा था कि किसके पास कौन-सा विभाग है। मार्च 2020 से मई 2021 तक मारिसन को स्वास्थ्य, वित्त, गृह मामले, वित्त और उद्योग मंत्री नियुक्त किया गया था, लेकिन मारिसन सरकार ने इसे छुपाकर रखा। 

पीएम मोदी से सलाह ले लेते मारिसन

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश ने मंगलवार को आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री स्काट मारिसन की संसद में निंदा को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर कटाक्ष किया। रमेश ने कहा कि मारिसन अपने दोस्त पीएम मोदी से सलाह ले सकते थे कि मंत्रियों का पद होते हुए भी सभी मंत्रालयों का प्रभारी कैसे बना जाए। आस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री मारिसन ने बुधवार को कई मंत्रिस्तरीय शक्तियों को गुप्त रूप से पास रखने के लिए संसद द्वारा सेंसर किए जाने के खिलाफ असफल तर्क दिया।

यह भी पढ़े: Fact Check : आम आदमी पार्टी के CM पद के उम्मीदवार इशुदान गढ़वी का 6 महीने पुराना वीडियो वायरल                        

Edited By: Amit Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट