काठमांडू,एएनआइ। चीन के राष्ट्रपति शी चिंनफिंग और नेपाल के प्रधानमंत्री  केपी शर्मा ओली ने रविवार को द्वपक्षीय बैठक की। मिलनाडु के महाबलिपुरम में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ अपनी दो दिवसीय अनौपचारिक शिखर बैठक के समापन के बाद चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग दो दिवसीय  यात्रा पर नेपाल की राजधानी काठमांडू गए हैं। इससे पहले चिनफिंग ने नेपाल के राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी के साथ भी बातचीत की थी। चिनफिंग पिछले 23 सालों में पहले ऐसे चीन के राष्ट्र प्रमुख हैं जिन्होंने नेपाल के दौरा किया है। 

 

अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर चिनफिंग को दिया गार्ड ऑफ ऑनर

नेपाल के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर चिनफिंग का स्वागत नेपाल की राष्ट्रपति विद्या देवी भंडारी और प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने किया। इसी के साथ नेपाल की सेना ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया। अधिकारी के बयान के अनुसार, पीएम ओली ने चीनी राष्ट्रपति का बेहज ही गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। इसके बाद चिनफिंग ओली से मुलाकात करने के लिए उनके आवास शीतल निवास गए थे। 

नेपाल और चीन ने की कई मुद्दों पर चर्चा

राष्ट्रपति कार्यालय ने जो बयान जारी किया है उसके अनुसार, दोनों नेताओं ने नेपाल और चीन के दोस्तानों रिश्तों, आपसी हितों और कई अलग मुद्दों पर चर्चा की। इतना ही नहीं नेपाली कांग्रेस के नेता शेर बहादुर देउबा से भी मुलाकात की। नेपाल की राष्ट्रपति द्वारा चिनफिंग के लिए भोज का आयोजन किया गया था जिसमें वह शामिल हुए।

नेपाल जाने से पहले चिनफिंग ने किया था भारत का दौरा

नेपाल आने से पहले चिनफिंग भारत दौरे पर आए थे। इस दौरान पीएम मोदी और चीन के राष्ट्रपति के बीच अनौपचारिक शिखर बार्ता हुई। शनिवार को दोनों नेताओं ने आतंकवाद सहित कई मुद्दों पर बातचीत की। इस दौरान दोनों देशों ने मतभेदों को सुलझाने और साथ ही एक दूसरे की चिंताओं के प्रति संवेदनशील रहने के साथ ही विवाद का रूप नहीं देने पर सहमति जाहिर की। 

 

Posted By: Ayushi Tyagi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप