पनामा सिटी, एएफपी। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की यात्रा के एक दिन बाद ही पनामा सरकार ने चीनी कंपनियों के एक समूह को पनामा नहर पर पुल बनाने का ठेका दिया है। उत्तरी और दक्षिणी अमेरिका के बीच स्थित सामरिक रूप से अत्यंत महत्वपूर्ण यह नहर अटलांटिक महासागर को प्रशांत महासागर से जोड़ती है। इस नहर पर बनने वाले ताजा प्रोजेक्ट की कीमत 1.4 अरब डॉलर है। यह पनामा का अब तक का सबसे बड़ा निर्माण प्रोजेक्ट है।

इस प्रोजेक्ट को चीन और पनामा के मजबूत रिश्ते की नींव बताते हुए पनामा के राष्ट्रपति जुआन कार्लोस वारेला ने कहा, 'दोनों देशों के संबंध प्रगाढ़ हो रहे हैं। इस प्रोजेक्ट से दोनों के बीच भरोसा बढ़ेगा।' लैटिन अमेरिकी देशों से राजनीतिक व आर्थिक संबंध मजबूत करने के प्रयासों के तहत ही चिनफिंग पनामा आए थे।

पनामा चीन की महत्वाकांक्षी बेल्ट एंड रोड परियोजना का हिस्सा बनने वाला पहला लैटिन अमेरिकी देश है। पनामा नहर पर पुल बनाने का ठेका हासिल करने वाले चीनी कंपनियों के समूह ने स्पेन, इटली, दक्षिण कोरिया और चीन की ही अन्य कंपनियों को मात देकर यह प्रोजेक्ट हासिल किया है।

Posted By: Bhupendra Singh