चिली, एएफपी। हिंसक प्रदर्शनों के बाद चिली के राष्‍ट्रपति सेबास्टियन पिनेरा ने शनिवार को राजधानी में आपातकाल का ऐलान कर दिया।

बता दें कि किराए की बढ़ोतरी से गुस्‍साए प्रदर्शनकारियों ने कई मेट्रो स्‍टेशनों में आग लगा दी। इनके हाथों में साइनबोर्ड था जिसपर लिखा था- 'Chile doesn't wake up' सैंटियागो मेट्रो में प्रतिदिन करीब 3 मिलियन पैसेंजर यात्रा करते हैं। यह मेट्रो शुक्रवार दोपहर से बंद करा दी गई है।

प्रदर्शनकारियों में अधिकतर हाइ स्‍कूल व यूनिवर्सिटी के छात्र हैं। दरअसल चिली की राजधानी सैंटियागो में मेट्रो ट्रेन के किराए में बढ़ोतरी के बाद विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। प्रदर्शनकारियों ने हर जगह उत्‍पात मचाना शुरू कर दिया।  अंडरग्राउंड स्‍टेशनों में आगजनी के साथ ट्रैफिक भी बाधित हो गई। इससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। इसके अलावा इन्‍होंने पुलिस की वाहनों पर भी हमला कर दिया, एक बस में आग लगा दी। प्रदर्शनकारियों को पथराव करते हुए भी देखा गया। 

राष्‍ट्रपति पिनेरा ने कहा, 'आपातकाल लागू करने के पीछे उचित व्‍यवस्‍था व सुव्‍यवस्थित कानून को बनाए रखना ही एकमात्र लक्ष्‍य है।' उन्‍होंने यह भी कहा कि सरकार इनसे बात करेगी और किराए के बढ़ने से प्रभावित लोगों की परेशानियों पर विचार करेगी।  इस माह के शुरुआत में सरकार ने पीक आवर्स  के दौरान किराए में 1.17 डॉलर की बढ़त की थी।

चिली की सरकार ने इस प्रदर्शन को हिंसक करार देते हुए आपातकाल लागू किया है। सरकार का कहना है कि हिंसा करने पर पकड़े जाने वाले प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यहां की एनर्जी कंपनी ने कहा, प्रदर्शनकारियों ने इसके कार्पोरेट हेडक्‍वार्टर में भी आग लगा दी। इसके बाद इस बिल्डिंग को खाली कराया गया। राष्‍ट्रपति पिनेरा ने कहा, 'प्रदर्शन करना एक बात  है लेकिन हिंसा फैलाना अलग।  यह प्रदर्शन नहीं अपराध है।' फिलहाल यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि इसमें कितने लोग संलिप्‍त थे। 

यह भी पढ़ें: जानिए, आखिर चिली और अर्जेंटीना में दिन में ही क्यों छाया अंधेरा, देखें तस्वीरें

यह भी पढ़ें: चिली: पुलिस स्टेशन पर आतंकी हमला, बम धमाके में 5 पुलिस अधिकारी घायल

Posted By: Monika Minal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप