बामको, एएफपी। माली के एक बस में विस्फोट हो जाने से 11 लोगों की जान चली गई। 53 घायल हो गए। समाचार एजेंसी एएफफी ने सूत्रों के हवाले से बताया कि गुरुवार को मध्य माली में एक बस के विस्फोटक उपकरण से टकरा जाने से जोरदार धमाका हुआ।

एक सुरक्षा सूत्र ने बताया कि बस में यह विस्फोट गुरुवार दोपहर मोप्ती इलाके (Mopti Area) में बांदियागरा (Bandiagara) और गौंडका (Goundaka) के बीच सड़क पर हुआ।

यह घटना एक ऐसे इलाके में हुई है, जिसे जिहादी हिंसा के गढ़ के रूप में जाना जाता है। रिपोर्ट्स के मुताबिक बस में धमाके का शिकार हुए सभी लोग आम नागरिक हैं।

यह भी पढ़ें : वाशिंगटन एयरपोर्ट पर पाकिस्‍तान के मंत्री डार के खिलाफ लगे चोर-चोर के नारे, पीएम समेत कई झेल चुके शर्मिंदगी

जिहादी विद्रोहियों ने अब तक हजारों लोगों की ली जान

बता दें कि एक दशक से भी अधिक समय से माली सशस्त्र विद्रोही समूहों की गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए संघर्ष कर रहा है। माली में जिहादी विद्रोहियों ने अब तक हजारों लोगों की जान ले ली है। साथ ही जिहादी विद्रोहियों ने हजारों लोगों को अपने घरों से बेदखल कर दिया है।

माली के इन इलाकों में माइन्स (Mines) और आईईडी ( Improvised Explosive Devices, IED) विद्रोहियों की पसंद के हथियारों में से एक हैं। जिहादी विद्रोही इन्हीं का सहारा लेकर दूर से विस्फोट करते हैं।

यह भी पढ़ें : Lockdown in China: चीन में फ‍िर लाकडाउन, राष्‍ट्रीय कांग्रेस सम्‍मेलन की तैयारियों के बीच Covid-19 का प्रसार

अगस्त 2022 अब तक 72 लोग मारे गए

माली में संयुक्त राष्ट्र मिशन की MINUSMA की एक रिपोर्ट में पता चला कि माइन्स और IED के विस्फोटो में 31 अगस्त 2022 तक 72 लोगों को मारा जा चुका है। रिपोर्ट में यह कहा गया है कि इनमें से मारे गए लोग अधिकांश सैनिक थे। एक चौथाई से अधिक लोग आम नागरिक थे। वहीं, पिछले साल आईईडी और माइन्स के विस्फोटों से से 103 लोग मारे गए थे और 297 घायल हुए थे।

Edited By: Dhyanendra Singh Chauhan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट