ढाका, पीटीआइ। बांग्लादेश 28 अक्टूबर से भारत के लिए उड़ानें फिर से शुरू करने के लिए तैयार है। कोरोना वायरस महामारी के कारण दोनों देशों के बीच करीब आठ महीनों से संचार निलंबित था। शनिवार को मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, द्विपक्षीय एयर बबल पैक्ट के तहत, दोनों देशों की एयरलाइंस कुछ प्रतिबंधों के साथ अंतरराष्ट्रीय उड़ानें संचालित कर सकती हैं। बता दें कि जुलाई के बाद से, भारत ने अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस और जर्मनी सहित कई देशों के साथ ऐसी एयर बबल व्यवस्था पर करार किया था।

नागरिक उड्डयन और पर्यटन मंत्रालय के वरिष्ठ सचिव मोहिबुल हक के हवाले से बताया गया कि फिलहाल शुरुआत में तीन बांग्लादेशी एयरलाइंस- बिमान बांग्लादेशी एयरलाइंस, यूएस-बांग्ला एयरलाइंस और नोवो एयर एक सप्ताह में 28 उड़ानों का संचालन करेंगी। वहीं पांच भारतीय एयरलाइंस- एयर इंडिया, इंडिगो, स्पाइसजेट, विस्तारा और गोएयर सप्ताह में 28 उड़ानें संचालित करेंगी। रिपोर्ट में कहा गया कि तीन बांग्लादेशी वाहकों में से, बिमान ढाका-दिल्ली और ढाका-कोलकाता मार्गों पर उड़ानें संचालित करेगी, ढाका-चेन्नई पर यूएस-बांग्ला एयरलाइंस और ढाका-कोलकाता मार्ग पर नोवो एयर उड़ानें संचालित करेगी। पांच भारतीय एयरलाइंस ढाका-दिल्ली, ढाका-कोलकाता, ढाका-चेन्नई और ढाका-मुंबई मार्गों पर उड़ानें संचालित कर सकती हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में उड़ानें फिर से शुरू करने का निर्णय शुक्रवार को नागरिक उड्डयन और पर्यटन मंत्रालय में एक अंतर-मंत्रालयी बैठक में किया गया। वहीं, आपको बता दें कि एक रिपोर्ट के अनुसार, जनवरी 2018 से मार्च 2019 तक, कम से कम 28,76,000 बांग्लादेशियों ने भारत में सफर किया और इनमें से औसतन 10 फीसदी चिकित्सा उपचार के लिए गए।

इंडिगो के यात्रियों को काउंटर चेकइन के लिए देना होंगे 100 रुपये

देश की सबसे बड़ी विमान सेवा कंपनी इंडिगो के यात्रियों को अब हवाई अड्डे पर एयरलाइन के काउंटर से चेकइन कराने के लिए भी शुल्क देना होगा। एयरलाइन ने एक बयान में बताया कि यात्रियों को हवाई अड्डे पर चेकइन कराने के लिए 100 रुपये का शुल्क देना होगा। यह आज से प्रभावी हो गया है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस