कोलंबो, प्रेट्र। वर्ष 1996 का क्रिकेट विश्व कप जीतने वाली श्रीलंकाई टीम के कप्तान अर्जुन राणातुंगा विपक्षी यूनाइटेड नेशनल पार्टी (यूएनपी) की बागडोर संभाल सकते हैं। पार्टी की कार्यकारी समिति के पास राणातुंगा सहित चार लोगों के नाम भेजे गए हैं।

चुनाव में हार के बाद विक्रमसिंघे ने अध्यक्ष पद छोड़ दिया था

बता दें कि संसदीय चुनाव में जबरदस्त हार के बाद रनिल विक्रमसिंघे ने पार्टी का अध्यक्ष पद छोड़ने का एलान कर दिया था।

यूएनपी श्रीलंका की सबसे पुरानी पार्टी है 

पार्टी की करारी हार के बाद यूएनपी के महासचिव और विक्रमसिंघे के चचेरे भाई रुवेन विजेवर्धना और पूर्व स्पीकर कारू जयसूर्या ने भी पार्टी का नेतृत्व करने की पेशकश की है। यूएनपी देश की सबसे पुरानी पार्टी है।

संसदीय चुनाव में यूनाइटेड नेशनल पार्टी का सूपड़ा साफ हो गया था, मात्र दो फीसद वोट मिले थे

1946 में स्थापना के बाद पहली बार उसका इतना खराब प्रदर्शन रहा है। वह पांच अगस्त को हुए चुनाव में देश के 22 इलेक्टोरल डिस्ट्रिक में एक भी सीट जीतने में सफल नहीं हुई। उसे मात्र दो फीसद वोट मिले। इस चुनाव में महिंद्रा राजपक्षे की श्रीलंका पीपुल्स पार्टी (एसएलपीपी) ने प्रचंड जीत दर्ज की थी।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस