यंगून, एजेंसियां। यंगून, एजेंसियां। म्यामांर में सोमवार को सुबह 08:19 बजे भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.1 मापी गई। अभी विस्‍तृत जानकारी का इंतजार है। इसके अलावा नगालैंड में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। यूरोपियन मेडिटेरियन सिस्‍मोलॉजिकल सेंटर (European-Mediterranean Seismological Centre, EMSC) ने बताया कि नगालैंड के तुएनसांग के 132 किलोमीटर पूर्व में इस भूकंप की 4.7 तीव्रता 4.7 मापी गई। 

प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक, पूर्वोत्‍तर में आए इस भूकंप के झटकों से अफरा तफरी का माहौल देखा गया। भूकंप का केंद्र म्यांमार में जमीन के नीचे बताया जाता है।  मौसम विभाग ने बताया कि भूकंप के झटके भारत के डिब्रुगढ, दिमापुर सदर, इम्फाल, नागांव और सिल्चर इलाकों में भी महसूस किए गए। इससे पहले 17 अगस्‍त को मणिपुर में भी भूकंप के हल्‍के झटके महसूस किए गए थे। तब भूकंप की तीव्रता 2.9 दर्ज की गई थी। 

समाचार एजेंसी सिन्‍हुआ के मुताबिक, दक्षिण प्रशांत महासागर के सोलोमन द्वीपसमूह में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए। रिपोर्ट में कहा गया है कि बुलाला क्षेत्र से 36 किलोमीटर दूर उत्‍तर पूर्व में रिक्‍टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 5.3 दर्ज की गई। अमेरिकी भूगर्भ सर्वेक्षण में बताया गया है कि भूकंप का केंद्र 7.92 अक्षांश एवं 159.34 डिग्री पूर्वी देशांतर में 55 किलोमीटर की गहराई में था। हालांकि, इसकी कम तीव्रता को देखते हुए सुनामी की चेतावनी नहीं जारी की गई थी। 

इनके अलावा दुनिया के बाकी हिस्‍सों में भी सोमवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। समाचार एजेंसी सिन्‍हुआ के मुताबिक, कोलंबिया के क्‍लियर लेक (Clear Lake) में 1.8 तीव्रता, उत्‍तरी सुमात्रा के हेटाटोबा तरुतुंग (Helatoba-Tarutung) में 3.2 तीव्रता, दक्षिणी आइसलैंड के कतला में भूकंप के बेहद हल्‍के झटके महसूस किए गए। इनके अलावा दक्षिणी पेरू के सबनक्‍या (Sabancaya) में 3.9 तीव्रता का तगड़ा झटका भी महसूस किया गया।  

Posted By: Krishna Bihari Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप