कुंदूज, रायटर। अफगानिस्तान के उत्तर में स्थित कुंदूज शहर में शनिवार को तालिबान और सरकारी सुरक्षा बलों के बीच भीषण संघर्ष छिड़ गया। टकराव में 36 तालिबान लड़ाकों के मारे जाने की खबर है, तीन शहरी मारे गए हैं और 41 घायल हुए हैं। सुरक्षा बलों को हुए नुकसान की जानकारी अभी नहीं मिली है।

कुंदूज में दोनों ओर से हमले 
यह संघर्ष ऐसे समय छिड़ा है जब कतर में अमेरिका और तालिबान समझौते के करीब हैं जिसके चलते अफगानिस्तान से अमेरिकी फौजों की वापसी होगी। कुंदूज में शनिवार को सुबह ही दोनों ओर से हमले शुरू हो गए। ये हमले कई ओर से हो रहे हैं। सरकारी सैनिक तालिबान पर हमले के साथ ही घायलों को अस्पताल पहुंचाने और अपना मोर्चा मजबूत करने के काम में लगे हुए हैं। शहर की बिजली और टेलीफोन लाइनें काट दी गई हैं। लोग घरों में दुबक गए हैं और शहर की सही स्थिति के बारे में जानकारी मुश्किल हो रही है। हमलों में तीन नागरिक मारे गए हैं और 41 घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

तालिबान लड़ाकों ने कई घरों को अपना ठिकाना बनाया
कुंदूज निवासी खालुद्दीन ने बताया है कि शहर की सड़कें वीरान हैं, दुकानें बंद हैं और लोग घरों में कैद हैं। शहर के कई इलाकों से हल्के और भारी हथियारों के चलने की आवाज आ रही हैं। भारी हथियारों में मशीनगन और हल्की तोप भी हो सकती हैं। कुंदूज और काबुल में मौजूद सरकारी अधिकारियों ने बताया है कि तालिबान लड़ाकों ने शहर के कई घरों में अपना ठिकाना बना लिया है और वे शहर के मुख्य अस्पताल में भी घुस गए हैं। वे वहीं से सरकारी बलों और आम नागरिकों पर हमले कर रहे हैं।

गृह मंत्रालय ने संघर्ष में 36 तालिबान लड़ाकों के मारे जाने की पुष्टि की है। सरकारी बल हमले के लिए विमानों का भी इस्तेमाल कर रहे हैं। जाखिल इलाके में 20 तालिबान लड़ाके हवाई हमले में ही मारे गए हैं। राष्ट्रपति अशरफ गनी के प्रवक्ता सिद्दीक सिद्दीकी ने कहा है कि सरकारी बल तालिबान का मुकाबला करते हुए नागरिकों की सुरक्षा भी कर रहे हैं, इसलिए उन्हें संयम बरतना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: US Taliban Peace Talks: नौवें दौर की वार्ता के बाद समझौते के बेहद करीब अमेरिका और तालिबान

यह भी पढ़ें: तालिबान ने अफगानिस्‍तान में सरकार समर्थित 14 मिलिशिया समर्थकों की हत्‍या की

Posted By: Shashank Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप