सियोल, आइएएनएस। अमेरिका ने उत्तर कोरिया से फिर अपील की है कि वह परमाणु हथियारों को छोड़ दे। अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) रॉबर्ट ओब्रायन ने अपनी अपील में कहा कि अगर उत्तर कोरिया बड़ी अर्थव्यवस्था बनना चाहता है तो परमाणु हथियारों से तौबा कर ले।

अमेरिकी एनएसए की इस अपील से पहले उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन ने अपनी पार्टी की एक अहम बैठक में परमाणु क्षमता मजबूत करने के मसले पर चर्चा की थी। उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए ने रविवार को बताया था कि किम ने सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी के केंद्रीय सैन्य आयोग की बैठक की अध्यक्षता की। इस बैठक में परमाणु युद्ध निवारण क्षमताओं को बढ़ाने संबंधी नई नीतियों पर चर्चा की गई। किम इस बैठक के जरिये करीब तीन हफ्ते बाद सार्वजनिक तौर पर सामने आए। इस खबर पर अमेरिकी एनएसए ओब्रायन ने कहा, 'अगर उत्तर कोरियाई दुनिया में दोबारा प्रवेश चाहते हैं और बड़ी अर्थव्यवस्था बनना चाहते हैं तो उन्हें अपने परमाणु कार्यक्रम को छोड़ना होगा।'

उल्लेखनीय है कि परमाणु मसले पर उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच गत अक्टूबर में स्वीडन में अंतिम बार वार्ता हुई थी। तब से दोनों देशों में इस मसले पर कोई बातचीत नहीं हुई।

बता दें कि इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से जूझ रही है। सब परेशानी एक तरफ और पूरी दुनिया का सारा दिमाग इस तरफ। फिलहाल इस वायरस को काबू करने के लिए कोई दवा नहीं बन पाई है। इस समय दुनिया वैश्विक महामारी कोरोना के कहर से लगातार जूझ रही है। वर्ल्डोमीटर के मुताबिक इस वायरस से मरने वालों की संख्या तीन लाख 46 हजार से ज्यादा हो गई है और संक्रमितों की संख्या 55 लाख 16 हजार से ज्यादा हो गई है। जबकि 23 लाख 10 हजार से ज्यादा लोगों ने कोरोना को मात दी है। दुनिया में सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या 99 हजार से ज्यादा हो गई है और 16 लाख 86 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हैं।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस