काबुल, एएनआइ। अमेरिका ने अफगानिस्तान के समांगन में हुए विस्फोट की निंदा की है और कहा है कि अफगानी बच्चों को बिना किसी डर के स्कूल जाने का अधिकार है। अफगानिस्तान के समांगन में हुए हमले में 16 लोगों की मौत हो गई है और करीब 24 लोग घायल हो गए हैं। अफगानिस्तान के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि ने कहा कि समांगन से दुखद खबर सामने आई है। एक धार्मिक स्कूल पर हुए हमले में कई लोग मारे गए हैं और कई लोग घायल भी हुए हैं। इस हमले में बच्चे भी शामिल हैं। उन्होंने कहा, 'अमेरिका इस मूर्खतापूर्ण हमले की निंदा करता है। सभी अफगान बच्चों को बिना किसी डर के स्कूल जाने का अधिकार है।'

विस्फोट में 16 लोगों की मौत, 24 घायल

मालूम हो कि अफगानिस्तान के समांगन के ऐबक शहर में बुधवार को जहदिया मदरसा में दोपहर की नमाज के दौरान विस्फोट हो गया, जिसमें करीब 16 लोगों की मौत हो गई है और 24 लोग घायल हो गए। टोलो न्यूज ने यह जानकारी दी है। टोलो न्यूज ने समंगन प्रांतीय अस्पताल के एक डॉक्टर के हवाले से बताया कि इस धमाके में कम से कम 15 लोगों की मौत हो गई और 27 अन्य घायलों को इस अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

दोपहर के नमाज के दौरान हुआ धमाका

तालिबान के एक अधिकारी ने कहा कि उत्तरी अफगानिस्तान में एक धार्मिक स्कूल में हुए बम विस्फोट में लगभाग 10 छात्रों की मौत हो गई है। स्थानीय अधिकारियों के मुताबिक यह धमाका उस समय हुआ, जब दोपहर की नमाज पढ़ी जा रही थी। आंतरिक मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल नफी ताकोर ने बताया कि समांगन प्रांत की राजधानी ऐबक में हुए धमाके में कई अन्य घायल हो गए। हालांकि इस हमले की किसी समूह ने जिम्मेदारी नहीं ली है। 

यह भी पढ़ें- क्रिप्टो बैंक ब्लॉकफी ने बैंकरप्सी के लिए आवेदन किया, FTX को बताया वजह, बिटफ्रंट एक्सचेंज भी बंद

यह भी पढ़ें- Fact Check: राहुल गांधी ने नहीं दिया महिलाओं को लेकर ये आपत्तिजनक बयान, आधी-अधूरी क्लिप वायरल

Edited By: Sonu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट