हांगकांग, न्यूयॉर्क टाइम्स से। 30 साल पहले सफेद शर्ट, काली पैंट पहने और दोनों हाथों में शॉपिंग बैग लिए टैंक के सामने खड़े व्यक्ति की तस्वीर ने पूरी दुनिया को हिला दिया था। 1989 में लोकतंत्र समर्थक आंदोलन को कुचलने के लिए चीन की सरकार ने थ्येनआनमन चौक पर जुटे प्रदर्शनकारियों पर सेना के टैंक चलवा दिए थे। उसी दौरान एसोसिएटेड प्रेस (एपी) के फोटोग्राफर जेफ विडनर ने वह तस्वीर खींची थी। तस्वीर सामने आने के बाद उस व्यक्ति को टैंकमैन और अज्ञात विद्रोही जैसे नाम दिए गए थे।

हांगकांग की एक तस्वीर ने ताजा कीं टैंकमैन की यादें 
अब हांगकांग की एक तस्वीर ने उस याद को ताजा कर दिया है। न्यूयॉर्क टाइम्स के फोटोग्राफर लाम यिक फी द्वारा खींची गई इस तस्वीर में एक व्यक्ति हाथ में छाता थामे एक पुलिसकर्मी के सामने खड़ा है। पुलिसकर्मी ने उसकी तरफ बंदूक तानी हुई है। हांगकांग में इन दिनों हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी लोकतंत्र के समर्थन में आंदोलन कर रहे हैं।

इस प्रदर्शन की शुरुआत एक विवादास्पद प्रत्यर्पण विधेयक से हुई थी। इसमें हांगकांग के आरोपितों को मुकदमे के लिए चीन प्रत्यर्पित करने का प्रस्ताव था। व्यापक विरोध के बाद हांगकांग की चीन समर्थक मानी जाने वाली प्रमुख कैरी लाम ने विधेयक को स्थगित कर दिया था। लेकिन अब प्रदर्शनकारी इस विधेयक को पूरी तरह निरस्त करने और लाम के इस्तीफे की मांग पर अड़े हैं। विरोध प्रदर्शनों ने लोकतंत्र समर्थक आंदोलन का रूप ले लिया है।

एसोसिएटेड प्रेस (एपी) के फोटोग्राफर जेफ विडनर द्वारा चीन के थ्येनआनमन चौक पर 1989 में खींची गई ‘टैंकमैन’ की तस्वीर
लगातार 12 हफ्तों से जारी आंदोलन चीन सरकार के लिए हांगकांग में बीते 22 सालों की सबसे बड़ी चुनौती है। यह पूर्व ब्रिटिश उपनिवेश 1997 में चीन के पास आया था। उसके बाद से कई बार लोकतांत्रिक अधिकारों के लिए आंदोलन हो चुके हैं, लेकिन ताजा आंदोलन सबसे ज्यादा समय से जारी है। कई जगह आंदोलन र्ने हिंसक रूप भी ले लिया है। प्रदर्शनकारियों से निपटने के लिए पुलिस रबर बुलेट, लाठीचार्ज और पानी की बौछारों का इस्तेमाल कर रही है।

यह भी पढ़ें: गिरती अर्थव्‍यवस्‍था के बीच हांगकांग पर बंधे हैं चीन के हाथ, क्‍या होगी शी चिनफिंग की रणनीति

जब थियानमेन स्‍क्‍वायर पर प्रदर्शन कर रहे लोगों को कुचलने के लिए चीन ने उतारे थे टैंक

Posted By: Sanjay Pokhriyal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप