जकार्ता, आइएएनएस। पिछले महीने इंडोनेशिया के सुलवेसी द्वीप पर आए भीषण भूकंप और सुनामी के कारण कम-से-कम 70 बच्चे अभी भी लापता हैं। इंडोनेशिया के सामाजिक मामलों के मंत्रालय ने इस आपदा में लापता लोगों की संख्या 680 बताई है, जबकि अधिकारी ऐसे लापता लोगों की संख्या 5,000 बता रहे हैं।

सरकार ने अब इन लोगों की खोजबीन बंद कर दी है। मंत्रालय के बाल पुनर्वास कार्यक्रम के मुख्य अधिकारी ने पत्रकारों को बताया कि लापता बच्चों की यह संख्या बच्चों के परिवारवालों की तरफ से आई शिकायत के आधार पर है।

हो सकता है बच्‍चों का गलत इस्‍तेमाल
देश के बाल सुरक्षा आयोग ने लापता बच्चों को लेकर चेतावनी जारी की है और कहा है कि लापता बच्चे बाल तस्करी और यौन उत्पीड़न का शिकार हो सकते हैं। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार सुलवेसी में आए भूकंप में अभी तक 2,103 लोग मारे जा चुके हैं और 4,612 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

2004 के बाद यह भयानक त्रासदी
इंडोनेशिया के इतिहास में 2004 की सुनामी के बाद की यह सबसे भयावह त्रासदी है। भौगोलिक स्थति के कारण इंडोनेशिया द्वीपसमूह में तीव्र से लेकर मध्यम स्तर की करीब 7,000 भूकंप की घटनाएं हरेक साल होती हैं।

Posted By: Prateek Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस