बगदाद, एएनआइ। इराक में लंबे समय से मौजूदा सरकार को हटाने और सामाजिक कल्याण करने के लेकर प्रदर्शनकारी लगातार विरोध प्रकट कर रहे हैं। इराकी स्वतंत्र उच्च मानवाधिकार आयोग (Iraqi Independent High Commission for Human Rights) ने शुक्रवार को बताया कि इराक संघर्ष के दौरान काफी संख्या में प्रदर्शनकारियों की मौत हुई। इस दौरान उन्होंने कहा कि रविवार को इस प्रर्दशन में 23 प्रदर्शनकारी मारे गए। 

अपनी रिपोर्ट में कमीशन ने बताया कि 23 लोग इस प्रदर्शन में मारे गए जबकि इराकी सुरक्षा बलों के 1,077 प्रदर्शनकारी और सदस्य घायल हुए। अस्पताल से छुट्टी मिले लोगों को का इलाज किया जा रहा है। इसके अलावा हिरासत में लिए लोगों में से 201 लोगों को छोड़ दिया गया है। इससे पहले शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त के मानवाधिकार के प्रवक्ता, रूपर्ट कोलविले ने कहा था कि  देश में अशांति के बीच 1 अक्टूबर से 7 नवंबर के बीच 269 मौतों हुई। इसके अलावा इराकी सुरक्षा बलों के सदस्यों सहित कम से कम 8,000 अन्य लोग उसी अवधि में घायल हो गए थे। बता दें कि सोमवार को शिया-आबादी वाले इराकी शहरों के बहुमत में प्ररदर्शकारियों ने एक सामान्य हड़ताल घोषित की गई थी और मुख्य राजमार्गों को अवरुद्ध कर दिया था। 

इराक में राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन अक्टूबर की शुरुआत में शुरू हुआ बढ़ता चला गया। प्रदर्शनकारी मौजूदा सरकार को हटाने का विरोध कर रहे हैं। साथ ही आर्थिक सुधार, बेहतर रहने की स्थिति, सामाजिक कल्याण और भ्रष्टाचार खत्म करने की मांग कर रहे हैं। जैसे- जैसे प्रदर्शकारियों का विरोध हिसंक होता गया है वैसे-वैसे सरकार ने इस प्रदर्शन को रोकने के लिए हरसंभव प्रयास किया। इस दौरान बगदाद में कर्फ्यू भी लगाया और इंटरनेट सेवा को पांच क्षेत्रों में बंद कर दिया गया। सरकार ने कैबिनेट फेरबदल और चुनाव कानूनों में बदलाव का वादा किया है, लेकिन प्रर्दशनकारी लगातार अपना विरोध जता रहे हैं। 

Posted By: Pooja Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप