दुबई, आइएएनएस। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में भारतीय नागरिक नरेंद्र गजरिया के कई ज्वाइंट बैंक खातों में जमा करीब दो करोड़ रुपये की राशि पांच महीने तक फंसी रही। पत्नी हीना के देहांत के बाद दोनों के नाम से खुले संयुक्त खातों में रखी उनकी रकम को निकालने पर यूएई के बैंकों ने रोक लगा दी।

गुरुवार को मीडिया में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक, दुबई में नौकरी करने वाले नरेंद्र ने पत्नी के साथ मिलकर कई बैंकों में संयुक्त खाता खोल रखा था। इन खातों में उनके सारे पैसे जमा थे। यूएई में बैंकिंग नियम के अनुसार, अकाउंट पार्टनर की मौत के बाद स्थानीय कोर्ट से उत्तराधिकार प्रमाण पत्र हासिल करना होता है।

उसके बाद ही बैंक खातों से जमा धनराशि की निकासी संभव हो पाती है। नरेंद्र ने बताया कि पांच महीने काफी मुश्किल में बीते। कोर्ट के आदेश के बाद यूएई के कानून के मुताबिक सभी संयुक्त खातों में जमा धनराशि को नरेंद्र और उनके बच्चों के बीच बराबर-बराबर बांट दिया गया।

Posted By: Nitin Arora

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप