बेरूत, एपी।  तुर्की समर्थित विरोधी लड़ाकों के नियंत्रण वाले उत्तरी सीरिया (North Syria) के एक शहर पर गुरुवार  को राकेट  से हुए हमले में छह नागरिकों की मौत हो गई और 12 से ज्यादा लोग घायल हो गए। सीरिया के बचावकर्मियों ने यह जानकारी दी। दोनों पक्षों ने अमेरिका समर्थित सीरियाई कुर्द फौजों को इस हमले का जिम्मेदार ठहराया है।

पहले भी होता रहा है हमला

आफरीन शहर, तुर्की और उसके सहयोगी सीरियाई लड़ाकों के कब्जे में 2018 से है। तभी से आफरीन और आसपास के गांव पर हमला होता रहा है। अंकारा कुर्द लड़ाकों को आतंकवादी मानता है जो तुर्की की सीमा से सटे सीरिया के क्षेत्र पर नियंत्रण रखते हैं।

अपने साथी आतंकियों को छुड़ाने के लिए IS ने किया था जेल पर हमला

एएफपी के अनुसार दाएश ने कुर्द द्वारा संचालित जेल पर हमला किया जो उत्तर पूर्व सीरिया में है। यह हमला अपने साथी आतंकियों को छुड़ाने के लिए किया गया था। उत्तर पूर्व सीरिया में गुरुवार को इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने कुर्द संचालित जेल पर अपने साथी आतंकियों को छुड़ाने के मकसद से हमला किया। यह जानकारी एक वार मानिटर (War Monitor) की ओर से दी गई। कुर्दिश की अगुवाई वाली सीरियाई डेमोक्रेटिक फोर्स ने इसकी पुष्टि की लेकिन यह नहीं बताया कि इस हमले में कितने कैदी फरार हुए।

जेल के मुख्य द्वार पर किया विस्फोट 

ब्रिटिश मानवाधिकारों के लिए काम करने वाले सीरियाई आब्जर्वेटरी के अनुसार घवेरैन जेल के प्रवेश द्वार पर विस्फोट हुआ और दूसरा विस्फोट आसपास के क्षेत्र में हुआ। इसके बाद इस्लामिक स्टेट के आतंकियों ने जेल के सिक्योरिटी पर हमला किया। सीरिया में अपने नेटवर्क से प्राप्त जानकारी के आधार पर बताया कि कई कैदी फरार होने में कामयाब रहे। आब्जर्वेटरी प्रमुख रामी अब्दुल रहमान ने न्यूज एजेंसी एएफपी को बताया कि घवेरान पूर्वोत्तर सीरिया में दाएश लड़ाकों के आवास की सबसे बड़ी जगहों में से एक है।

Edited By: Monika Minal