अबू धाबी [ एजेंसी ]। पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) के बाद भारत और पाकिस्तान के तल्ख हो रहे रिश्तों के बीच पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने एक बड़ा बयान दिया है। उनका यह बयान ऐसे समय आया है, जब दोनों देशों के बीच सीमा पर युद्ध जैसे हालात है। मुशर्रफ का यह बयान युद्ध के लेकर भारत को खबरदार करता है, वही वह पाकिस्‍तान को भी सीख दिया।
एक साथ 50 परमाणु बम से हमला करने पर ही पाक होगा सुरक्षित
डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक यूएई में मुशर्रफ ने कहा कि अगर हम भारत पर एक परमाणु बम से हमला करते हैं तो भारत हमें 20 बमों से हमला करके हमारे अस्तित्‍व को समाप्‍त कर सकता है। उन्‍होंने कहा कि इसका एकमात्र उपाय यह है कि पाकिस्‍तान पहले भारत पर 50 परमाणु बमों से हमला करना चाहिए ताकि वे हमें 20 बमों से न मार सकें। उन्‍होंने सवाल करते हुए कहा है कि क्या आप पहले 50 बमों के साथ हमला करने के लिए तैयार हैं ? मुशर्रफ ने कहा कि यह इतना आसान नहीं है। ऐसी बात मत करो। हमेशा एक सैन्य रणनीति होती है। इसके पहले पाकिस्‍तान के पूर्व राष्‍ट्रपति ने कहा कि भारत किसी भी तरह से पाकिस्‍तान को भूटान समझने की भूल नहीं करे, जो किसी भी तरह का एक्‍शन लेकर वापस निकल जाएगा। 

किसी परमाणु हमले की आशंका को खारिज किया
मुशर्रफ ने कहा कि एक बार फ‍िर  भारत-पाकिस्तान के संबंध फिर से खतरनाक स्तर पर पहुंच गए हैं। लेकिन उन्‍होंने किसी परमाण्‍ाु हमले की आशंका को खारिज किया। पूर्व राष्‍ट्रपति ने आगाह किया किया गया अगर पाकिस्तान पर हमला किया गया, तो ये भारतीय प्रधनमंत्री मोदी की जीवन की सबसे बड़ी भूल होगी। मुशर्रफ ने कहा कि अगर मोदी के दिल में आग धधक रही है तो मैं यह कहना चाहूंगा कि मेरे दिल में उनसे ज्‍यादा आग है। पूर्व राष्‍ट्रपति ने कहा कि जिस समय कश्मीर में लोगों को मारा जाता है, उससे मेरे दिल में भी आग लगती है। उन्‍होंने कहा जब कश्मीर में बच्चों पर गोलियां चलाई जाती हैं, तो मेरी आंखों में आंसू आते हैं।
जैश-ए-मोहम्मद ने मुझ पर हमले करवाया
एक भारतीय न्‍यूज चैनेल से बातचीत के दौरान मुशर्रफ ने कहा था कि जैश-ए-मोहम्मद ने मुझ पर भी हमले करवाया था। मौलाना मसूद अजहर ने मुझे भी मरवाने की कोशिश की थी। पुलवामा हमले के बाद भारत में जिस तरह से उकसाने वाली बातें की जा रही हैं, उससे कश्मीर का मसला हल नहीं होगा, बल्कि ये ऐसे ही चलता रहेगा।

प्रधानमंत्री मोदी एक और मौका दे
मुशर्रफ के इस बयान से पूर्व पाकिस्‍तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को एक और मौका देना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि पुलवामा आतंकी घटना में पाकिस्‍तान का कतई हाथ नहीं है। इमरान के कहा कि बिना किसी सबूत के उनके देश को इस आतंकी घटना के लिए जिम्‍मेदार ठहराया जा रहा है। उन्‍होंने सवाल करते हुए कहा कि आखिर इससे पाकिस्‍तान को क्‍या फायदा है। पाकिस्‍तान प्रधानमंत्री ने कहा कि इसके बावजूद अगर कोई प्रमाण दें तो मैं उनके खिलाफ एक्‍शन लूंगा।  

Posted By: Ramesh Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस