द हेग, आइएएनएस। रासायनिक हथियारों पर प्रतिबंध लगाने वाले संगठन ओपीसीडब्ल्यू के विशेषज्ञों के दल ने शनिवार को सीरिया के डोउमा का दौरा किया। सात अप्रैल को वहां कथित रासायनिक हमला हुआ था।

-ओपीसीडब्ल्यू के दल ने जांच के लिए डोउमा से इकट्ठा किए सैंपल

विशेषज्ञों ने डोउमा में रासायनिक हमले वाले एक स्थान से जांच के लिए सैंपल इकट्ठा किए। ओपीसीडब्ल्यू ने बयान जारी कर बताया कि जांच के बाद स्थिति का आकलन और आगे के कदमों पर विचार किया जाएगा। जरूरत होने पर डोउमा का फिर दौरा किया जा सकता है।

विशेषज्ञ दल द्वारा इकट्ठा किए गए सैंपल को रिज्सविज्क स्थित ओपीसीडब्ल्यू की लेबोरेटरी में भेजा जाएगा। इसके बाद उसे विश्लेषण के लिए ओपीसीडब्ल्यू द्वारा तय किए गए लेबोरेटरी में भेजा जाएगा। दल द्वारा इकट्ठा सैंपल, अन्य सामग्रियों और सूचनाओं के विश्लेषण के बाद तैयार रिपोर्ट को रासायनिक हथियार कंवेंशन के सदस्य देशों को सौंपा जाएगा।

विशेषज्ञों का दल एक सप्ताह पहले सीरिया की राजधानी दमिश्क पहुंचा था लेकिन सुरक्षा संबंधी समस्या के चलते डोउमा नहीं जा पाया था। गौरतलब है कि सात अप्रैल को डोउमा में कथित रासायनिक हमले में दर्जनों लोगों की मौत हो गई थी। अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने इसके लिए सीरिया सरकार को जिम्मेदार बताया है। जबकि सीरिया और उसके सहयोगी रूस ने किसी भी तरह का रासायनिक हमला होने से इन्कार किया।

अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन ने कथित रासायनिक हमले का जवाब देने के लिए सीरिया के सरकारी ठिकानों पर मिसाइल हमले किए। इन ठिकानों पर रासायनिक हथियार होने और उनके निर्माण का संदेह था।

 

Posted By: Bhupendra Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप