मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

दुबई, एजेंसी। पीएम मोदी शुक्रवार को पेरिस के चार्ल्‍स द गाले एयरपोर्ट से यूएई के लिए रवाना हो गए। वह जी-7 में शामिल होने के लिए पेरिस फिर वापस आएंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23-24 अगस्‍त को संयुक्‍त अरब अमीरात ( यूएई ) की दो दिवसीय यात्रा पर होंगे। बतौर प्रधानमंत्री मोदी की यूएई की यह तीसरी यात्रा होगी। प्रधानमंत्री की इस यात्रा को लेकर यूएई सरकार  उत्‍साहित है। यूएई में भारतीय दूत ने कहा कि प्रधानमंत्री की यह यात्रा द्विपक्षीय व्‍यापक रणनीतिक साझेदारी के लिए मील का पत्‍थर साबित होगी। यूएई में रह रहा भारतीय समुदाय में भी मोदी की यात्रा को लेकर काफी उत्‍साहित है। वह मोदी के आने की बेसब्री से प्रतिक्षा कर रहा है।

मोदी यात्रा से उत्‍सुक भारतीय समुदाय
प्रधानमंत्री नरेंद्र मादी अपनी यात्रा के दौरान अबु धाबी के युवरात शेख मोहम्‍मद बिन जायद से मुलाकात करेंगे। इस दौरान शेख मोहम्‍मद से वह द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और परस्‍पर हितों के अंतरराष्‍ट्रीय मामलों पर भी चर्चा करेंगे। यूएई में भारत के राजदूत नवदीप सिंह सूरी ने ट्वीट किया है कि भारतीय समुदाय और यूएई सरकार मोदी की यात्रा के लिए काफी उत्‍सुक है। उम्‍मीद की जा रही है कि इससे दोनों देशों के बीच द्पिक्षीय संबंध और मजबूत होंगे। उम्‍मीद की जा रही है कि इस यात्रा के दौरान जम्‍मू-कश्‍मीर पर प्रधानमंत्री अपना पक्ष रखेंगे। 
यूएई में सर्वोच्‍च सम्‍मान से सम्‍मानित होंगे मोदी
प्रधानमंत्री मोदी यूएई का सर्वोच्‍च सम्‍मान 'ऑर्डर ऑफ जायद' प्राप्‍त करेंगे। गत अप्रैल में यूएई ने दोनों देशों के बीच द्पिक्षीय रणनीतिक संबंधों को बढ़ावा देने में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए मोदी को यह प्रतिष्ठित पुरस्‍कार देने की घोषणा की थी। यह पुरस्‍कार यूएई के संस्‍थापक शेख जायद बिन सुल्‍तान अल नाहयान के नाम पर है। 
आखिर भारत के लिए क्‍यों खास है यूएई
- यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा व्‍यापारिक साझेदार है। यूएई के साथ भारत का करीब 60 अरब डॉलर का वार्षिक द्विपक्षीय व्‍यापार हुआ है।
- खाड़ी देशों में भारत को तेल निर्यात करने वाला यूएई चौथा सबसे बड़ा देश है। भारत और यूएई के बीच द्विपक्षीय निवेश और मजबूत हुआ है। 
- यूएई में करीब 33 लाख भारतीय समुदाय के लोग रहते हैं। भारतीय आबादी यहां की अर्थव्‍यवस्‍था की रीढ़ है।
जी-7 की बैठक में शामिल होंगे पीएम मोदी
बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 अगस्‍त से 27 अगस्‍त के बीच होने वाले फ्रांस, बहरीन, यूएई और जी-7 की बैठक में शामिल होंगे। प्रधानमंत्री मोदी फ्रांस के राष्‍ट्रपति इमैनुएल मैक्रो के निमंत्रण पर वहां जाएंगे। मोदी 22 अगस्‍त की शाम को फ्रांस पहुंचेंगे। 23 अगस्‍त को प्रधानमंत्री यूनेस्‍को भवन में भारतीय समुदाय को संबोधित करेंगे। फ्रांस के बाद पीएम यूएई के लिए रवाना होंगे। इसके बाद वह बहरीन जाएंगे।

 

Posted By: Ramesh Mishra

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप