बगदाद (एपी)। पिछले सप्‍ताह उत्‍तरी इराक में सुनसान हाइवे पर 9 फेडरल पुलिस अधिकारी वाले बड़े एसयूवी को एक चेकप्‍वाइंट पर रोका गया। उनके पीछे एक टैक्‍सी में मुठ्ठीभर अन्‍य अधिकारी थे। शिया पैरामिलिट्री के तौर पर कुछ शख्‍स ने पुलिस के जवानों को उनके आइडी और हथियार जांच के लिए देने को कहा और उन्‍हें बंधक बना लिया।

जब टैक्‍सी मुड़ा तभी उन लोगों ने फायरिंग शुरू कर दी। एसयूवी सवारों को उसके बाद देखा नहीं गया। कुछ दिनों बाद वे जिहादी फोरम पर दिखे। इस्‍लामिक स्‍टेट ने इनकी हत्‍या की जिम्‍मेवारी ली।

दिसंबर में इराक ने इस्‍लामिक स्‍टेट पर जीत की घोषणा की लेकिन हाल के महीनों में आतंकी संगठन ने फिर से उत्‍तरी इराक पर पर हमला शुरू कर दिया है। इराकी सुरक्षा अधिकारियों ने कहा कि सुरक्षा बलों के 150 से 200 सदस्‍य पिछले कुछ महीनों में इस्‍लामिक स्‍टेट द्वारा मारे गए। किर्कुक सरकार ने कहा, ‘फेडरल फोर्स और पेशमेगरा के बीच खाली जगह है। उनका कहना है कि केंद्र सरकार से इस क्षेत्र में सुरक्षा मुहैया कराने के लिए कई बार कहा गया है लेकिन इसे नजरअंदाज कर दिया गया।

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस