अदन, एएफपी। यमन के तटीय शहर अदन में इस्लामिक स्टेट (आइएस) के आतंकियों ने सेना की कैंटीन पर आत्मघाती हमला कर एक बच्चे समेत सात लोगों की जान ले ली, जबकि 30 लोग घायल हो गए। पुलिस के अनुसार, मंगलवार सुबह आतंकियों ने मनसौरा जिले के दारीन क्षेत्र में यमन के सहयोगी देश की मदद से चल रही कैंटीन पर आत्मघाती हमला किया। हमले से वहां खड़ी कई गाडि़यों को नुकसान पहुंचा है।

आइएस ने हमलें की जिम्मेदारी लेते हुए कहा कि उसके लड़ाकों ने खाने के मुख्यालय पर कार बम से टक्कर मार कर उसे उड़ा दिया। पहले से ही यमनी फौज सऊदी के नेतृत्व में गठबंधन सेनाओं के साथ मिलकर राजधानी सना में ईरान समर्थित हाउती विद्रोहियों से लड़ रही हैं। पिछले महीने 24, फरवरी को अदन में आइएस आतंकियों ने दोहरे आत्मघाती हमले में अदन आतंकरोधी ईकाई के पांच अधिकारियों की हत्या कर दी थी। 2015 में हाउती विद्रोहियों के राजधानी पर कब्जे के बाद यमन सरकार ने अदन में अपना मुख्यालय स्थापित किया था।

इस शहर में सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर किया गया यह दूसरा हमला था, जहां सऊदी अरब की अगुआई वाली गठबंधन सेना में यूएई सुरक्षाबल भी 2015 से तैनात हैं। यह गठबंधन 2015 से यमन में हादी सरकार को बहाल करने के लिए ईरान समर्थित हाउती विद्रोहियों के खिलाफ हमले कर रहा है।

जनवरी महीने के आखिर में हाउती विद्रोहियों ने दो दिनों की लड़ाई के बाद अदन पर कब्जा कर लिया था। यह शहर सऊदी अरब और अंतरराष्ट्रीय समर्थन प्राप्त राष्ट्रपति अब्दराब्बू मंसूर हादी सरकार की अंतरिम राजधानी है। तीन दिन पहले ही प्रधानमंत्री अहमद बिन दाघर ने अरब देशों से अदन को बचाने की अपील की थी।

By Pratibha Kumari