बगदाद, एएनआइ। इराक की राजधानी बगदाद में नकाबपोश बंदूकधारियों ने कई टेलीविजन स्टेशनों के कार्यालयों में तोड़फोड़ की है। रूस टुडे की खबर ने इस बात की जानकारी दी है। सऊदी के स्वामित्व वाले अल-अरबिया ने कहा कि विभिन्न नकाबपोश बंदूकधारियों ने बगदाद में उनके कार्यालय पर हमला किया। संवाददाता के अनुसार, 'बंदूकधारियों द्वारा हमारे कार्यालय के तूफान के दौरान सहकर्मियों को घायल कर दिया गया है।' उन्होंने कहा, 'बंदूकधारियों ने जो काले कपड़े पहने हुए थे, हमारे उपकरणों और मोबाइल फोन को तोड़ दिया।'

संवाददाता ने कहा कि पुलिस ने हमले के दौरान स्टेशन की सुरक्षा को अस्वीकार कर दिया है।उन्होंने कहा, पुलिस ने हमले के दौरान हमारी सहायता करने से इनकार कर दिया। संवाददाता ने कहा, 'हमले के बाद, हमें प्रधानमंत्री कार्यालय से और अधिकारियों से हमले की जांच करने का आश्वासन मिला है।'

कहां हुए हमले ?

दजला, एनआरटी, अरबिया हद, फालौजा, अलघद अलारबाई, अल-शरकिया और स्काई न्यूज अरबिया के कार्यालयों को भी कथित रूप से टारगेट किया गया था। यह हमला ऐसे समय में हुआ है जब  इराक़ विरोध प्रदर्शनों की चपेट में आ गया है, जिसने प्रधानमंत्री एडेल अब्दुल महदी की नाजुक सरकार को कठघरे में ला खड़ा कर दिया है।

इन विरोध प्रदर्शनों में अब तक 100 लोग मारे गए हैं और हजारों लोग घायल हुए हैं।नसीरिया, दिवानियाह और बसरा शहरों में विरोध प्रदर्शन किए गए हैं।बगदाद में प्रदर्शनकारियों में से कई ने देश के सबसे प्रसिद्ध युद्ध नायकों में से एक, लेफ्टिनेंट जनरल अब्दुलवाब अल-सादी, इराक के आतंकवाद विरोधी बल के एक पूर्व प्रमुख की तस्वीरें खींचीं जिन्होंने इस्लामिक स्टेट को हराने के लिए लड़ाई का नेतृत्व किया।बगदाद में शनिवार को सरकार ने एक दिन का कर्फ्यू हटा दिया लेकिन इसके बावजूद फिर से वहां हुए हिंसकर विरोध प्रदर्शनों को देखते हुए सड़कों को बंद रखा गया। 

इन हिंसक प्रदर्शनों में अबतक 3000 लोग घायल हो चुके हैं। प्रदर्शन का मुख्य मुद्दा बेरोजगारी, बेकार सेवाओं और भ्रष्टाचार है, जिसका विरोध किया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें: बगदाद से हटा कर्फ्यू, लेकिन कई जगहों पर एहतियातन जारी है अलर्ट

इसे भी पढें: इराक में मौलवी कर रहे हैं लड़कियों की दलाली, जानिए क्‍या है इसके पीछे की पूरी कहानी

Posted By: Shashank Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस