बगदाद, एपी। ईरान में चल रहे विरोध-प्रदर्शन के बीच अब सरकार के लिए नई चुनौती सामने आ गई है। ईरान में अब देश के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खमेनेई की भांजी ही सरकार के खिलाफ हो गई है। ईरानी सर्वोच्च नेता की भांजी नागरिकों से आह्वान कर रही है कि सरकार विरोधी प्रदर्शनों के हिंसक दमन पर तेहरान के साथ संबंध तोड़ने के लिए अपनी सरकारों पर दबाव डालें।

सरकार के खिलाफ समर्थन की मांग

फ्रांस में रहने वाले उनके भाई ने फेसबुक पर एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें फरीद मोरादखानी दुनिया भर के लोगों से ईरान में जारी विरोध-प्रदर्शन का समर्थन करने का अनुरोध कर रही है। अमेरिका स्थित राइट्स मानिटर HRANA के अनुसार, 23 नवंबर को मोरादखानी की कथित गिरफ्तारी के बाद वीडियो को शेयर किया गया। बता दें कि मुरादखानी लंबे समय से सक्रिय कार्यकर्ता के रूप में आवाज उठाती रही है। उनके दिवंगत पिता खमेनेई की बहन से विवाह किया था और विपक्ष के नेता थे। मोरादखानी के परिवार के सदस्यों ने दशकों से खमेनेई का विरोध किया है और मोरदखानी को पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है।

ईरान में प्रदर्शन से बुरा हाल

मोरादखानी ने कहा, 'मैं दुनिया के ईमानदार लोगों से अनुरोध करती हूं कि वे हमारा समर्थन करें। साथ ही उनकी सरकारों को सिर्फ शब्दों से नहीं बल्कि वास्तविक कार्रवाई के साथ प्रतिक्रिया करने और ईरान की सरकार के साथ किसी भी तरह का व्यवहार बंद करने के लिए कहती हूं।' बता दें कि ईरान में पिछले तीन महीनों से विरोध-प्रदर्शन जारी है। ईरान में इसका बहुत बुरा असर पड़ा है। प्रदर्शनकारियों को सुरक्षा बलों द्वारा बुरी तरह पीटा जा रहा है। जानकारी के अनुसार, ईरान में प्रदर्शन के दौरान अब तक 451 लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें 63 नाबालिग शामिल हैं। वहीं, अब तक 18,173 लोगों को हिरासत में या गिरफ्तार किया जा चुका है।

ये भी पढ़ें: Fact Check : छत्तीसगढ़ के कोरबा में घटी घटना की पुरानी खबर को अभी का समझकर किया गया वायरल

ये भी पढ़ें: बाजार में क्रेडिट कार्ड डेटा से सौ गुना महंगा बिकता है हेल्थ डेटा

Edited By: Devshanker Chovdhary

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट