तेहरान, एपी। ईरान ने पुष्टि की है कि उसने पूर्व अमेरिकी नौसैनिक माइकल आर व्हाइट को गिरफ्तार कर रखा है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासनकाल में किसी अमेरिकी की ईरान में यह पहली गिरफ्तारी है। इससे दोनों देशों के बीच पहले से जारी तनाव और बढ़ सकता है।

विश्व शक्तियों के साथ ईरान के परमाणु समझौते से अमेरिका गत मई में एकतरफा बाहर हो गया था। तभी से दोनों देशों में तनातनी चल रही है। माइकल की गिरफ्तारी के कारण अभी स्पष्ट नहीं हैं। लेकिन ईरान पहले भी पश्चिमी देशों के नागरिकों को हिरासत में लेकर उनका इस्तेमाल सौदेबाजी के लिए करता रहा है। ईरान की अर्धसरकारी न्यूज एजेंसी तसनीम ने ईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता बहराम घासेमी के हवाले से बताया कि एक अमेरिकी नागरिक को कुछ समय पहले मशहद शहर में गिरफ्तार किया गया था।

गिरफ्तारी के शुरुआती दिनों में ही यह सूचना अमेरिकी अधिकारियों को दे दी गई थी। मशहद राजधानी तेहरान से 95 किलोमीटर पूर्व में स्थित है। अमेरिकी अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में माइकल की मां जोआन व्हाइट के हवाले से कहा गया है कि उन्हें बेटे के जिंदा और कैद होने की सूचना तीन हफ्ते पहले मिली। जोहान ने बताया कि उनका 46 वर्षीय बेटा माइकल अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने ईरान गया था। माइकल के अलावा चार अन्य अमेरिकी भी इस समय ईरान की कैद में हैं।

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप