बगदाद, एएफपी : इराकी सेना ने पश्चिमी रेगिस्तान में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) के बचे हुए आतंकियों के खिलाफ बड़ा अभियान शुरू किया है। इराक में यह आइएस का अंतिम शरणस्थल है। सीरिया सीमा के नजदीक टिगरिस और यूफरेटिस नदियों के बीच इस बंजर इलाके में आबादी बहुत कम है। इससे पहले इराकी सेना और अर्धसैनिक बलों ने आइएस को घाटियों और शहरी इलाकों से खदेड़ दिया है।

इराकी सेना के संयुक्त अभियान कमान के जनरल अब्देलआमिर याराल्ला ने बताया कि सेना और अर्धसैनिक बलों ने अल-जजीरा क्षेत्र से आइएस के सफाए का अभियान गुरुवार सुबह शुरू किया। आइएस मामले के इराकी विशेषज्ञ के मुताबिक, यह इलाका इराक के कुल क्षेत्र का करीब चार फीसद है।

इराक आइएस के खिलाफ जीत की घोषणा कर चुका है लेकिन इराकी प्रधानमंत्री हैदर अल-अबादी ने मंगलवार को कहा था कि जब तक रेगिस्तानी इलाके से आइएस का सफाया नहीं होता तब तक ऐसा नहीं कहा जा सकता। उस क्षेत्र में अभियान पूरा होने के बाद हम इराक के आइएस से पूरी तरह मुक्त होने की घोषणा करेंगे।

सीरिया से लगी सीमा पर सुरक्षा बल और अमेरिका समर्थित कुर्दिश बल आइएस के खिलाफ इसी तरह का अभियान चला रहे हैं। यह अभियान यूफरेटिस घाटी के उत्तर में ग्रामीण इलाकों से चलाए जा रहे हैं।

यह भी पढ़े: कार बम धमाके से दहला उत्तरी बगदाद, 21 की मौत

 

Posted By: Abhishek Pratap Singh