कामदीश, एजेंसियां: बीते दो दशकों से युद्ध की बयार झेल रहे अफगानिस्तान पर कुदरत भी कहर बरसाने में रहम नहीं कर रही है। बुधवार देर रात देश के नूरिस्तान प्रांत के कामदीश में आई बाढ़ ने 80 से ज्यादा घरों को पूरी तरह से बर्बाद कर दिया है, साथ ही 150 से ज्यादा लोगों के लापता होने की भी खबर है। यह जानकारी प्रांत के प्रमुख सईदुल्ला नूरिस्तानी के हवाले से दी गई है, बताया जा रहा है की तबाही के बाद से अब तक करीब 40 शवों को बरामद किया गया है।

हजारों एकड़ कृषि भूमि प्रभावित

देश के मौसम विभाग ने पहले से ही एक बड़े इलाकों में आंधी, बारिश और बाढ़ की आशंका जाहिर करते हुए चेतावनी जारी की थी। वहीं, एक पूर्व चेतावनी की रिपोर्ट में भी कहा गया था कि कुछ इलाकों में 3 इंच (76 मिमी) से ज्यादा बारिश होने की आशंका है। पूर्वानुमान के मुताबिक ही बुधवार को भारी बारिश के बाद बाढ़ देखने के मिली है। आंकड़ों के मुताबिक अबतक बाढ़ के चलते करीब 2,600 घरों को आंशिक रूप से और कुछ को भारी नुकसान हुआ है। वहीं करीब 3,600 मवेशियों के मारे जाने की भी खबर है, साथ ही सड़क और पांच हजार एकड़ से ज्यादा की कृषि भूमि को भी नुकसान पहुंचा है। गुजरे मई के महीने में भी अफगानिस्तान के लोगों को बाढ़ का सामना करना पड़ा था। तब सप्ताह भर बारिश होने के बाद, बाढ़ की स्थिति बनी थी। जिसकी चपेट में आकर करीब 78 लोगों की मौत हो गई थी।

बाढ़ के कारण बढ़ा विस्थापन

बीते कुछ वर्षों में देखा गया है की, गर्मियों के दौरान बाढ़ ने अफगानिस्तान में कई बार आपाद स्थिति पैदा की है। पिछले साल भी बाढ़ के कारण 150 से ज्यादा लोगों को जान गवानी पड़ी थी और पांच सौ से ज्यादा परिवार बेघर हो गए थे। संयुक्त राष्ट्र के हवाले से जारी आंकड़ों के अनुसार अफगान में साल 2019 में आई भीषण बाढ़ के कारण दस हजार से ज्यादा घर तबाह हो गए और करीब दो लाख लोग इससे प्रभावित हुए।

Edited By: Amit Kumar