टोक्यो, एएफपी। ईरान के साथ बढ़ते तनाव के बीच सोमवार को जापान दौरे पर अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का बदला हुआ रुख सामने आया। उन्होंने यहां कहा कि वह ईरान में सत्ता परिवर्तन नहीं चाहते। उल्लेखनीय है कि ट्रंप ने ईरान के खतरे से निपटने के लिए हाल में पश्चिम एशिया में 1500 अतिरिक्त सैनिकों की तैनाती का आदेश दिया था।

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी के साथ शिखर वार्ता खत्म होने के बाद ट्रंप ने संयुक्त प्रेस वार्ता में ईरान मसले पर कहा, 'हम सत्ता में बदलाव नहीं चाहते। मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि हम कोई परमाणु हथियार नहीं चाहते। हम ईरान को कोई नुकसान पहुंचाना नहीं चाहते। हमारा मानना है कि दोनों पक्ष किसी समझौते पर पहुंच सकते हैं।' इससे पहले उन्होंने ईरान के साथ बातचीत का द्वारा खोलते हुए कहा था कि अगर वे वार्ता करना चाहेंगे तो हम भी बात करेंगे।

किम को बताया, वेरी स्मार्ट
जापान दौरे पर पहुंचे ट्रंप ने उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन की तारीफ की और कहा कि वह बहुत स्मार्ट हैं। ट्रंप ने यह भी कहा कि वह उत्तर कोरिया के हालिया मिसाइल परीक्षणों से चिंतित नहीं हैं।

किम से मेरी मुलाकात को ट्रंप का पूरा समर्थन: एबी
जापान के प्रधानमंत्री शिंजो एबी ने कहा कि उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग उन के साथ उनकी प्रस्तावित मुलाकात का अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने पूरा समर्थन किया है। एबी ने कहा कि किम से मुलाकात के जरिये ही जापान से जुड़े मसलों का समाधान निकाला जा सकता है। जापान के प्रधानमंत्री किम से मिलने की इच्छा जाहिर कर चुके हैं, लेकिन किम ने ज्यादा रुचि नहीं दिखाई है।

जापान के नए सम्राट से मिले ट्रंप
राष्ट्रपति ट्रंप ने सोमवार को जापान के नए सम्राट नारुहितो से मुलाकात की। वह नए सम्राट से मिलने वाले पहले विदेशी राष्ट्राध्यक्ष हैं। ट्रंप पत्नी मेलानिया के साथ सोमवार सुबह टोक्यो के शाही महल पहुंचे। यहां पर सम्राट नारुहितो और महारानी मसाको ने उनका स्वागत किया। नारुहितो की गत एक मई को नए सम्राट के तौर पर ताजपोशी हुई थी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanisk

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस