जकार्ता, एएफपी। इंडोनेशिया के जावा और सुमात्रा में शुक्रवार को शक्‍तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए गए। इसमें चार की मौत हो गई और कई जख्‍मी हैं। भूकंप के कारण कई मकान धराशायी हो गए। लोगों को दूसरी जगह ले जाया गया है। राष्‍ट्रीय आपदा प्रबंधन एजेंसी के अधिकारियों ने पहले सुनामी की भी आशंका जताई थी जिसे बाद में खारिज कर दिया गया।

संयुक्त राज्य भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के अनुसार, राजधानी जकार्ता के दक्षिण-पश्चिम में लाबुआन से लगभग 150 किलोमीटर की दूरी पर 6.9 तीव्रता का भूकंप आया। जिसका केंद्र 52.8 किलोमीटर की गहराई पर रही। अधिकारियों ने आशंका जताई थी कि सुनामी की ऊंचाई 3 मीटर तक हो सकती है जिसे बाद में खारिज कर दिया।

भूकंप के कारण स्‍थानीय लोगों के बीच भय का माहौल बन गया था। लोग ऊंची जगहों पर चले गए, कई तो जकार्ता की सड़कों पर निकल कर आ गए। इंडोनेशिया के राष्‍ट्रीय आपदा एजेंसी के अधिकारियों ने चेताया कि भूकंप के कारण 3 मीटर ऊंची लहरों वाली सुनामी आ सकती है हालांकि कई घंटे बीत जाने के बाद इसे खारिज कर दिया। शनिवार को अधिकारियों ने बताया कि भूकंप के कारण भयभीत 45 वर्षीय महिला की हार्ट अटैक के कारण मौत हो गई।
दुनिया में पृथ्वी पर सक्रिय ज्वालामुखियों में सबसे अधिक इंडोनेशिया के आसपास के क्षेत्र में पड़ते हैं। ज्वालामुखियों की इसी संख्या के कारण इस इस इलाके को 'रिंग ऑफ फायर' कहा जाता है। यहां साल भर में करीब 7,000 भूकंप के झटके आते हैं पिछले वर्ष सितंबर में 7.5 तीव्रता वाले भूकंप के कारण आए सुनामी में 2000 लोगों की मौत हो गई थी वहीं 200,000 लोग बेघर हो गए थे।

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Monika Minal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस