शंघाई [एएफपी]। चीन के रेस्तरां में वेटरों की जगह रोबोट ग्राहकों की मेहमाननवाजी कर रहे हैं। रेस्तरां की मेजों पर पहिये से चलने वाले ये ओवन के आकार के छोटे रोबोट शंघाई शैली में झींगा मछली परोसते हैं और मशीनी आवाज में ग्राहकों को कहते हैं, अपने खाने का आनंद लें। दरअसल, भविष्य में इस तरह के रेस्तरां बनाने के लिए यह कॉन्सेप्ट चीन की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा ने तैयार किया है। कंपनी का प्लान रोबोट और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से सभी सेक्टरों में बदलाव करना है। इसके पीछे कंपनी का मकसद रोबोट की कार्यक्षमता बढ़ाना और लेबर कॉस्ट कम करना है।

अलीबाबा के प्रोडेक्ट मैनेजर काओ हैताओ कहते हैं, शंघाई में एक वेटर को हर माह 10 हजार यूआन करीब एक लाख रुपये देने होते हैं। साथ ही इनकी दो शिफ्ट में जरूरत होती है। इसके चलते पूरे शंघाई शहर में सैकड़ों वेटरों पर बहुत अधिक खर्च आता है। रोबोट के इस्तेमाल से हमें दो शिफ्ट की कीमत नहीं देनी पड़ेगी। वे पूरा दिन काम करेंगे। अलीबाबा ने इन रोबोट को सुपरमार्केट चेन हेमा में भी इस्तेमाल किया है। इन स्टोर्स में लोग मोबाइल एप से सामान चुनते हैं और रोबोट डिलीवर करते हैं। अलीबाबा ने चीन के 13 शहरों में 57 हेमा सुपरमार्केट खोल रखे हैं। इनमें रोबोट ही सारा काम करते हैं। 

Posted By: Sanjay Pokhriyal