बीजिंग (आईएएनएस)। मानवधिकार समूहों ने गुरुवार को चीनी सरकार से देश की सत्ता का विरोध करने के लिए 13 वर्ष की जेल की सजा पाने वाले प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता को रिहा करने की मांग की और इसके साथ ही मामले में संयुक्त राष्ट्र से भी हस्तक्षेप करने का आग्रह किया।

मानवाधिकार समूह ह्यूमन राइट्स वाच (एचआरडब्ल्यू) की चीन की निदेशक सोफिया रिचर्डसन ने कहा, "किन योंगमिन का केवल 'अपराध' यह था कि उन्होंने चीन में शांतिपूर्वक सुधार की ओर आगे बढ़ने के लिए एक मानवधिकार पर्यवेक्षक समूह को संगठित किया।"

हुबई प्रांत में वुहान सिटी इंटरमीडिएट पीपुल्स कोर्ट ने बुधवार को 64 वर्षीय मानवधिकार कार्यकर्ता को 'सत्ता के खिलाफ विद्रोह' करने का दोषी पाया और उन्हें 13 वर्ष कारावास की सजा सुनाई।

एचआरडब्ल्यू ने चीनी सरकार को तत्काल और बिना शर्त किन को रिहा करने की मांग की, क्योंकि उनपर लगाए गए आरोप 'अनुचित' हैं और दी गई सजा 'काफी कठोर' है जो कि चीनी सरकार द्वारा मूलभूत अधिकारों के हनन को दिखाता है।

किन चाइनीज डेमोक्रेटिक पार्टी के संस्थापकों में से एक हैं। पार्टी के गठन के तुरंत बाद कम्युनिस्ट सरकार ने इस पर प्रतिबंध लगा दिया था। मानवधिकार की रक्षा के लिए संघर्ष के दौरान, उन्होंने कुल 22 वर्ष जेल में या स्वतंत्रता के अधिकार का आंशिक रूप से दमन करने के अनुभव के साथ बिताए हैं।

चीनी मानवधिकार रक्षक संगठन (सीएचआरडी) ने भी किन को सजा दिए जाने की आलोचना की है और इसे अनुचित और एकपक्षीय बताया। संगठन ने संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों से भी उनकी रिहाई के लिए कदम उठाने का आग्रह किया है।

By Srishti Verma