हांगकांग, रायटर। हांगकांग में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच शनिवार को भी द्वंद्व जारी रहा। तोड़फोड़ और सड़क जाम कर रहे प्रदर्शनकारियों पर काबू पाने के लिए पुलिस ने लाठीचार्ज किया और आंसू गैस छोड़ी तो प्रदर्शनकारियों ने जवाब में पथराव किया और पेट्रोल बम फेंके। कई लोगों के घायल होने की खबर है। इस बीच चीन की पुलिस ने शेनझेन से गिरफ्तार किए गए ब्रिटिश वाणिज्य दूतावास के कर्मचारी साइमन चेंग को रिहा कर दिया है। चेंग को वेश्यावृत्ति में शामिल होने के आरोप में 15 दिनों के लिए गिरफ्तार किया गया था।

टकराव की स्थिति मोलोटोव इलाके में तब पैदा हुई जब प्रदर्शनकारियों ने सड़क के किनारे लगे स्मार्ट लैंप तोड़ने शुरू किए। इन स्मार्ट लैंपपोस्ट पर सर्विलांस कैमरे लगे हुए हैं जिनसे पुलिस को आंदोलनकारियों की गतिविधियों के बारे में जानकारी मिल जाती है। इसी दौरान कुछ प्रदर्शनकारी सड़क जाम कर रहे थे। पुलिस ने उन्हें हटाने की कोशिश की तो टकराव हो गया। इसके बाद पुलिस को आंसू गैस छोड़नी पड़ी।

यह भी पढ़ें- हांगकांग में ब्रिटेश दूतावास के सदस्य को चीन ने किया गिरफ्तार, ब्रिटिश सरकार मांग रही जवाब

दस दिनों के छिटपुट आंदोलन के बाद शनिवार को पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच ऐसा हिंसक टकराव हुआ है। शनिवार को हांगकांग के कई प्रमुख स्थलों की दीवारों पर स्प्रे पेंट से लिखा हुआ देखा गया- हमें लोकतंत्र दो या हमें मौत दो। सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि प्रदर्शनकारी हर नागरिक की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा पैदा कर रहे हैं।

प्रदर्शनकारियों की अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे की सेवाओं को प्रभावित करने की योजना को देखते हुए अतिरिक्त सतर्कता बरती जा रही है। सतर्कता के बीच हवाई, सड़क और रेल सेवाएं सामान्य हैं। इस बीच प्रशासन ने घनी आबादी वाले इलाके कूनटोंग में लोकल ट्रेन के चार स्टेशन बंद करा दिए हैं। ऐसा प्रदर्शनकारियों को काबू करने के मकसद से किया गया है।

यह भी पढ़ें- जब थियानमेन स्‍क्‍वायर पर प्रदर्शन कर रहे लोगों को कुचलने के लिए चीन ने उतारे थे टैंक

Posted By: Manish Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप