हांगकांग, रायटर। चीन के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर हांगकांग की पुलिस ने पहली बार फायरिंग की है, जिसमें एक व्‍यक्ति की मौत हो गई है। पुलिस ने प्रदर्शनकारी के सीने पर गोली मारी। इस घटना का पूरा वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। कम्युनिस्ट चीन के 70वें स्थापना दिवस पर हांगकांग में प्रदर्शन काफी तेज हो गया। हालांकि, एक दिन पहले ही पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प काफी हिंसक हो, जिसके बाद आज प्रदर्शन पर रोक लगा दिया गया था। लेकिन प्रदर्शनकारियों ने कम्युनिस्ट चीन के 70वें स्थापना दिवस पर जोरदार प्रदर्शन करने की योजना बना रखी थी।

चीन ने दुनिया को दिखाई अपनी सैन्य ताकत

चीन में कम्युनिस्ट शासन की वर्षगांठ के मौके पर स्वायत्तशासी हांगकांग में लोकतंत्र समर्थकों ने बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किए। शहर के कई इलाकों में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प भी हुई। पुलिस ने उन्हें खदेड़ने के लिए आंसू गैस के गोले दागे और पानी की बौछार की। पुलिस ने होई पा इलाके में फायरिंग भी की। इसमें एक प्रदर्शनकारी को गोली लगने की खबर है। इसका वीडियो भी सामने आया है, जिसमें एक पुलिस अधिकारी करीब से एक प्रदर्शनकारी को गोली मारते दिख रहा है।

मॉल और मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए गए

पुलिस और प्रदर्शनकारियों की झड़प में करीब 15 लोग घायल हो गए। लोकतंत्र समर्थकों के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए मंगलवार को हांगकांग में ज्यादातर मॉल और मेट्रो स्टेशन बंद कर दिए गए थे। हांगकांग गत जून से ही विरोध प्रदर्शनों की आग में झुलस रहा है। ब्रिटेन ने साल 1997 में हांगकांग को चीन के नियंत्रण में सौंपा था। तब से इस शहर में यह सबसे बड़ा विरोध प्रदर्शन है।

हांगकांग में आतिशबाजी का कार्यक्रम रद

खुले में नहीं मना चीनी जश्नचीन में कम्युनिस्ट शासन की वर्षगांठ का जश्न हांगकांग में खुले में नहीं मनाया गया। शहर के एक प्रदर्शनी केंद्र में सरकारी अधिकारियों ने ध्वजारोहण किया। हांगकांग की मुख्य कार्यकारी कैरी लाम मुख्य उत्सव में भाग लेने के लिए बीजिंग में थीं। विरोध प्रदर्शन के मद्देनजर हांगकांग में आतिशबाजी का कार्यक्रम रद कर दिया गया था।

Posted By: Tilak Raj

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप