बीजिंग, एजेंसी। चीन में कोरोना वायरस संक्रमण की बढ़ती रफ्तार के बीच कुछ शहरों के लॉकडाउन लगा दिए गए हैं। इनमें से कुछ जगहें ऐसी भी हैं जहां लॉकडाउन की समयावधि बढ़ा दी गई है। चीन के हेनान प्रांत में लॉकडाउन की समय-सीमा शुक्रवार को बढ़ा दी गई जबकि तिब्‍बत के ल्‍हासा में कोरोना महामारी संबंधी प्रतिबंधों में और सख्‍ती लाई गई है।

चीन में डायनेमिक कोविड जीरो नीति

मालूम हो कि चीन में महामारी को लेकर डायनेमिक कोविड जीरो नीति का पालन किया जाता है जिसके तहत कोरोना का एक भी मामला मिलने पर यहां सतर्कता के साथ सख्‍ती बरती जाती है। इसमें लॉकडाउन, नए दिशा-निर्देश और कोविड टेस्टिंग की संख्‍या में इजाफा होने जैसी चीजें शामिल हैं। इसी नीति के तहत चीन में स्‍थानीय सरकारों के द्वारा कुछ दिनों या हफ्तों के लिए लॉकडाउन की घोषणा की जा रही है।

शंघाई में बिगड़ेे थे हालात

कम समय के लिए लगाए जा रहे ये लॉकडाउन फिर भी कोरोना की गंभीर स्थिति के मुकाबले बेहतर है जिसका सामना अभी कुछ ही महीने पहले शंघाई ने किया। यहां इस दौरान कोरोना के बेहद बिगड़े हालात नजर आए थे। चीन में इस वक्‍त कोरोना वायरस का ओमिक्रॉन वेरिएंट लोगों के लिए परेशानी का सबब बना हुआ है क्‍योंकि यह अधिक घातक होने के साथ तेजी से फैलता भी है।

हेेेेनान की स्थिति सबसे खराब

चीन के हेनान प्रांत के डोंगफांग और वेंगमाई की स्थिति इस वक्‍त सबसे खराब है। यहां कुल रहने वालों की संख्‍या 900,000 के करीब है। यहां लॉकडाउन के दिन बढ़ा दिए गए। पहले तीन से चार दिन का लॉकडाउन लगाया गया था जो अब हफ्ते में बदल गया।

तिब्‍बत में भी नए नियम

हेनान की राजधानी हाइकोउ ने अपनी आबादी पर सुबह सात बजे से लेकर शाम के छह बजे तक लॉकडाउन लगा दिया। इसके अलावा, जिस समय तक छूट दी गई है उस दौरान प्रतिबंध अधिक सख्‍त कर दिए गए।

हेनान के कई अन्‍य शहरों की ही तरह सान्‍या में भी लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई है, हालांकि इसकी समयसीमा फिलहाल के लिए निर्धारित नहीं है।

इसके अलावा, तिब्‍बत के पश्चिमी प्रांत के सबसे बड़े शहर ल्‍हासा में लोगों को शुक्रवार से सोमवार के बीच बेवजह बाहर नहीं निकलने की चेतावनी दी गई क्‍योंकि इस दौरान साफ-सफाई का काम जारी रहेगा।

Edited By: Arijita Sen