बीजिंग, एजेंसियां। दक्षिण चीन के पहाड़ी क्षेत्र में सोमवार को हुई विमान दुर्घटना में अभी तक एक भी यात्री जीवित नहीं मिला है। मंगलवार को भी विमान के मलबे में तलाशी एवं बचाव अभियान जारी रहा। दुर्घटनाग्रस्त हुए चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस के बोइंग 737 विमान में 132 लोग सवार थे। विमान में सवार 123 यात्रियों और नौ क्रू सदस्यों के बारे में अभी तक कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है। पहाड़ी इलाके में हुई विमान दुर्घटना में किसी के जीवित मिलने की उम्मीद बाकी नहीं है।

मौके पर लोगों के पर्स और सामान आदि तो मिले लेकिन कोई यात्री जीवित नहीं मिला। विमान के ब्लैक बाक्स की स्थिति के बारे में भी कोई जानकारी नहीं मिली है। ब्लैक बाक्स ही दुर्घटना के बारे में सूचना उपलब्ध करा सकता है। बोइंग ने कहा है कि दुर्घटना की जांच में वह चाइना ईस्टर्न एयरलाइंस का सहयोग करेगा।

बचाव दल ने मंगलवार को दक्षिणी चीन में भारी जंगलों वाली पहाड़ी ढलानों पर अभियान चलाया। पीड़ितों की तलाश में फावड़ों और मशालों का उपयोग किया गया। राज्य टेलीविजन ने कहा कि लगभग 600 सैनिकों, अग्निशामकों और पुलिस ने दुर्घटनास्थल पर मार्च किया। तीन तरफ पहाड़ों से घिरे स्थान में लगभग एक वर्ग किमी का एक टुकड़ा खुदाई करने वालों के रास्ते को साफ किया गया।

दुर्घटनास्थल पर मिले पहचान पत्र और पर्स के जले हुए अवशेष

दुर्घटनास्थल के पास एक ग्रामीण 64 वर्षीय सी ने बताया कि उसने दुर्घटना के समय एक धमाका सुना था। यह गड़गड़ाहट की तरह था। सरकारी टेलीविजन ने आग से झुलसे पेड़ों के बीच बिखरे विमान के मलबे की तस्वीरें दिखाई हैं। पहचान पत्र और पर्स के जले हुए अवशेष भी देखे गए। इस सप्ताह क्षेत्र में बारिश की संभावना जताई गई है। पुलिस ने लू गांव में एक चेकपाइंट स्थापित किया, जो साइट के पास था और पत्रकारों को प्रवेश करने से रोक दिया गया। चीनी मीडिया के अनुसार, एक वाहन के डैशबोर्ड कैमरे से वीडियो के फोटो में वर्टिकल से लगभग 35 डिग्री के कोण पर एक जेट जमीन पर गोता लगाता दिखाई दिया।

राज्यसभा ने विमान दुर्घटना पर शोक जताया

एएनआइ के मुताबिक, राज्यसभा ने मंगलवार को चीन में एक दिन पहले हुई त्रासद विमान दुर्घटना में मारे गए यात्रियों को लेकर शोक व्यक्त किया। दिन के 11 बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू हुई राज्यसभा सभापति एम. वेंकैया नायडू ने दुर्घटना को दर्दनाक और दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि सदन मारे गए लोगों के प्रति शोक जताने में उनका साथ दे। पीएम नरेंद्र मोदी ने भी हादसे पर दुख जताया था।

Edited By: Arun Kumar Singh

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट