बीजिंग (रायटर्स)। चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने कहा है कि यदि संयुक्त राज्य अमेरिका द्विपक्षीय व्यापार संबधों पर अपने संरक्षणवादी व्यवहार पर अड़ा रहता है, तो चीन अपने देश के हितों की रक्षा के लिए नए उपाय करेगा।  राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के चीनी आयात पर 100 अरब डॉलर का अतिरिक्त टैरिफ लगाने की धमकी देने के बाद चीन की तरफ से ये बयान आया है। शुक्रवार को अपनी वेबसाइट पर एक बयान में चीनी वाणिज्य मंत्रालय ने दोहराया कि चीन ट्रेड वॉर (व्यापार युद्ध) नहीं चाहता है। लेकिन संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा व्यापार विवाद को बार-बार उकसाया जा रहा है।

इसके पहले चीन के प्रधानमंत्री ली कचियांग ने कहा था कि चीन संयुक्त राज्य अमेरिका के साथ व्यापार युद्ध में प्रवेश नहीं करना चाहता है। युद्ध केवल दोनों पक्षों के बीच के संबंध को नुकसान पहुंचाएगा। उन्होंने आगे कहा कि चीन और अमेरिका के बीच किसी भी व्यापार युद्ध से कोई भी विजेता नहीं होगा। इसी के साथ उन्होंने दोनों देशों के शांत रहने की उम्मीद जताई है।

13वें नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) के आखिरी दिन प्रधानमंत्री ली ने कहा कि चीन अमेरिका के साथ स्थिर और अच्छे संबंध चाहता हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप चीन के खिलाफ वार्षिक टैरिफ 60 अरब डॉलर का पैकेज लगाने की तैयारी कर रहे हैं। जिस पर चीन के प्रधानमंत्री ने चिंता व्यक्त की है। ऐसा करने पर लंबे समय तक खतरा पैदा हो सकता है। उनके अनुसार वह बौद्धिक संपदा के उल्लंघन के लिए चीन को दंडित करेगा और अमेरिकी नौकरियों को अधिक बढ़ाने की मदद करेगा।

 

Posted By: Srishti Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस