बीजिंग, एपी। चीन में कोरोना की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए आज WHO की टीम वुहान पहंचेगी। इसी बीच खबर है कि आठ महीने के बाद चीन में कोरोना से पहली मौत हुई है। बता दें कि वुहान से फैले जानलेवा कोरोना वायरस से आज पूरी दुनिया परेशान है। दुनिया में सबसे शक्तिशाली देश अमेरिका इस वायरस से सबसे ज्यादा संक्रमित है। वहीं भारत दूसरे नंबर पर संक्रमित देश है। हालांकि मौत के मामले में ब्राजील दूसरे नंबर पर प्रभावित देश है। उधर, इन दिनों ब्रिटेन से फैले कोरोना के नए स्ट्रेन ने भी पूरी दुनिया में हाहाकार मचाया हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक, ज्यादातर देशों  में यह नया स्ट्रेन पहुंच चुका है। भारत में भी इस नए स्ट्रेन के काफी मामले दर्ज हो चुके हैं। बताया जा रहा है कि यह वायरस कोरोना से भी ज्यादा घातक है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन के नेतृत्व में विशेषज्ञों की एक अंतरराष्ट्रीय टीम आज चीन के वुहान पहुंचेगी। बता दें कि यह टीम पता लगाएगी कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति वुहान से हुई या नहीं थी। कोरोना वायरस के शुरुआती आनाकानी और अंतरराष्ट्रीय दबाव के आगे झुकते हुए चीन ने डब्ल्यूएचओ की टीम को अपने यहां आने की इजाजात दी है। बता दें कि चीन के वुहान से ही कोरोना वायरस पूरी दुनिया में फैला था। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सबसे पहले यह आरोप लगाया था और इसे चीनी वायरस करार दिया था।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021