मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

बीजिंग, एपी। चीन इस साल दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट पर पहुंचने की चाहत रखने वाले पर्वतारोहियों की संख्या में भारी कटौती करने वाला है। चीन के सरकारी मीडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, सरकार ने यह निर्णय एवरेस्ट पर सफाई अभियान के तहत लिया है। 8,850 मीटर ऊंचे एवरेस्ट का कुछ हिस्सा नेपाल के साथ चीन में भी पड़ता है।

हर साल करीब 60 हजार पर्वतारोही और गाइड चीन में पड़ने वाले माउंट एवरेस्ट के उत्तरी हिस्से से चढ़ाई करते हैं। इस हिस्से को यहां माउंट कोमोलांग्मा नाम से जाना जाता है। चीन सरकार ने इस हिस्से से चढ़ाई करने वालों की संख्या में एक तिहाई कटौती करने का फैसला किया है। इसके बाद केवल 300 लोग ही इस साल एवरेस्ट की चढ़ाई कर पाएंगे।

रिपोर्ट के अनुसार, सफाई अभियान के तहत पर्वतारोहण के दौरान आठ हजार से अधिक ऊंचाई पर जान गंवाने वालों के शव निकाले जाएंगे। इसके अलावा वहां फैले कूड़े जैसे टेंट, ऑक्सीजन सिलेंडर, प्लास्टिक बैग आदि को साफ करने और उन्हें रिसाइकल करने के लिए कई केंद्र भी बनाए गए हैं। नेपाल के तरफ पड़ने वाले हिस्से में पहले ही सफाई अभियान शुरू हो चुका है। वर्ष 2017 में एवरेस्ट पर चढ़ाई करने वाले 648 लोगों में से छह की मौत हो गई थी। इनमें से एक चीन की तरफ से चढ़ाई कर रहा था।

Posted By: Ravindra Pratap Sing

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप