बीजिंग, एएनआइ। कोरोना वायरस के बीच संक्रामक बीमारियों की रोकथाम और प्रबंधन के लिए जैव सुरक्षा कानून (biosecurity law) पास किया गया है। चीन की शीर्ष विधायी निकाय (legislative body)ने यह बिल पास किया है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने न्यूज एजेंसी सिन्हुआ के हवाले से यह जानकारी दी। 

नेशनल पीपुल्स कांग्रेस स्टैंडिंग कमेटी (National People's Congress Standing Committee) ने इस बिल को अपनाने के लिए वोट किया। सिन्हुआ के मुताबिक, 15 अप्रैल 2021 से यह लागू किया जाएगा। 

चीन से फैला कोरोना वायरस

बता दें कि चीन के वुहान से फैले कोरोना वायरस से इस वक्त पूरी दुनिया जुझ रही है। इस संक्रमण की रोकथाम के लिए सभी देश अपने स्तर पर वैक्सीन बनाने में जुटे हैं। इंसान से इंसान को फैलने वाले इस संक्रमण से दुनिया में सबसे ज्यादा संक्रमित देश अमेरिका है। वहीं दूसरे नंबर पर संक्रमित देश भारत है। प्रत्येक दिन यह मामले बढ़ते जा रहे हैं।

कई देशों के शीर्ष भी हो चुके हैं संक्रमित

इस जानलेवा वायरस से कई देशों के शीर्ष भी संक्रमित हो चुके हैं। इसमें अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भी हैं। हालांकि कोरोना से जल्दी ठीक होने पर भी उन पर सवाल उठाए गए थे। वहीं अमेरिका शुरू से ही भयंकर वायरस के लिए चीन को जिम्मेदार ठहर रहा है, जिसके चलते दोनों देशों के बीच मतभेद भी उत्पन्न हो गए हैं। ट्रंप के अलावा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन भी इस वायरस की चपेट में आ चुके हैं। वहीं भारत की बात करें तो यहां पर भी सांसद, मंत्री से लेकर कई राज्यों के मुख्यमंत्री भी संक्रमित हो चुके हैं।

कई देशों ने लगाया था लॉकडाउन

संक्रमण की रोकथाम के लिए ज्यादातर देशों ने अपने यहां पर लॉकडाउन भी लगाया था हालांकि बाद में बिगड़ती आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखते हुए ज्यादातर देशों ने अपने यहां से लॉकडाउन हटा दिया था, इसमें भारत भी शामिल है। भारत में अनलॉक की प्रक्रिया चल रही है। 

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस